शिवसागर  

शिवडोल मन्दिर, शिवसागर
Sivadol Temple, Sibsagar

शिवसागर एक नगर, पूर्वी असम राज्य, पूर्वोत्तर भारत में स्थित है। यह नगर ब्रह्मपुत्र की सहायक 'दिखू' के किनारे स्थित है। शिवसागर जोरहाट से लगभग 50 किलोमीटर दूर पूर्व-पूर्वोत्तर में स्थित है।

इतिहास

13वीं शताब्दी में युन्नान क्षेत्र से चीन के 'ताई' बोलने वाले अहोम लोग इस इलाके में आए। 18वीं शताब्दी में शिवसागर अहोम साम्राज्य की राजधानी था। उस समय यह 'रंगपुर' कहलाता था। उस काल के कई मंदिर यहाँ मौजूद हैं।

यातायात और परिवहन

राष्ट्रीय राजमार्ग और पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे पर स्थित यह शहर अब चाय प्रसंस्करण का प्रमुख केंद्र है।

कृषि और खनिज

चाय के साथ-साथ आसपास के क्षेत्रों में चावल, रेशम, सरसों, और लकड़ी का उत्पादन होता है।

प्रसिद्धि

यह स्थान 'मुक्तिनाथ शिव मंदिर' के लिए उल्लेखनीय है। भारतीय इतिहास में प्रसिद्ध अहोम वंश के राजा शिवसिंह ने इसका निर्माण करवाया था।[1]

जनसंख्या

2001 की जनगणना के अनुसार इस क्षेत्र की जनसंख्या 54,482 है, ज़िले की कुल जनसंख्या 10,52,802 है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ऐतिहासिक स्थानावली |लेखक: विजयेन्द्र कुमार माथुर |प्रकाशक: राजस्थान हिन्दी ग्रंथ अकादमी, जयपुर |संकलन: भारतकोश पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 901 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शिवसागर&oldid=501677" से लिया गया