हीरक जयंती  

हीरक जयंती का प्रयोग किसी घटना की 75वीं जयंती अथवा 75वीं वर्षगाँठ के लिये किया जाता है। हीरक शब्द हीरे का द्योतक है। उदाहरण के लिये यदि भारत 15 अगस्त 1947 को आज़ाद हुआ तो इसके 75 वर्ष बाद 15 अगस्त 2022 को स्वतंत्रता प्राप्ति की हीरक जयंती होगी। ध्यान देने की बात ये भी है कि इसी उदाहरण में 15 अगस्त 2022 भारत का 76वां स्वतंत्रता दिवस होगा। चूंकि जयंती घटना के एक साल बाद से प्रारम्भ होती है इसलिये ये घटना की वास्तविक सँख्या से एक कम चलती है। अंग्रेज़ी भाषा में हीरक जयंती के लिए 'डायमंड जुबली' (Diamond Jubilee) शब्द का प्रयोग होता है।

हीरक जयंती वर्ष

घटना की 74वीं वर्षगाँठ के दिन से लेकर हीरक जयंती तक चलने वाले एक वर्ष को हीरक जयंती वर्ष कहा जाता है। अधिकतर समूह या संगठन जो किसी घटना का हीरक जयंती वर्ष मना रहे होते हैं, वो इस पूरे वर्ष कोई न कोई आयोजन अथवा समारोह करते रहते हैं जो कि अंत में हीरक जयंती के दिन सम्पन्न होते हैं।

इन्हें भी देखें: स्वर्ण जयंती एवं रजत जयंती


टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=हीरक_जयंती&oldid=515092" से लिया गया