वरुण  

Disamb2.jpg वरुण एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- वरुण (बहुविकल्पी)
वरुण ग्रह
Neptune
  • इसकी खोज 1846 ई. में जर्मन खगोलज्ञ जॉन गले और अर्बर ले वेरिअर ने की है।
  • इस ग्रह को अंग्रेज़ी में Neptune कहते हैं।
  • यह 166 वर्षों में सूर्य की परिक्रमा करता है तथा 12.7 घंटे में अपनी दैनिक गति पूरा करता है।
  • नई खगोलीय व्यवस्था में यह सूर्य से सबसे दूर स्थित ग्रह है और सौरमंडल का 8वां है।
  • यह हरे रंग का है।
  • इसके चारों ओर अति शीतल मिथेन का बादल छाया हुआ है।
  • इस ग्रह में बर्फ़ कि मात्रा अधिक है इसलिए इसे बर्फ-दानव भी कहते हैं।
  • इसके 8 उपग्रह हैं, जिनमें टाइटन प्रमुख है।
  • 1989 में नासा ने इसके अध्धयन के लिए वोयेगर-2 नामक वायुयान भेजा था।

वरुण देवता के रूप में

  • वरुण देवता देवताओं के देवता है।
  • देवताओं के तीन वर्गो (पृथ्वी स्थान, वायु स्थान और आकाश स्थान) में वरुण का सर्वोच्च स्थान है।
  • देवताओं में तीसरा स्थान 'वरुण' का माना जाता है, जिसे समुद्र का देवता, विश्व के नियामक और शासक सत्य का प्रतीक, ऋतु परिवर्तन एवं दिन-रात का कर्ता-धर्ता, आकाश, पृथ्वी एवं सूर्य का निर्माता के रूप में जाना जाता है।
  • ईरान में इन्हें 'अहुरमज्द' तथा यूनान में 'यूरेनस'{संदर्भ ?} के नाम से जाना जाता है।
  • वरुण देवता ऋतु के संरक्षक थे इसलिए इन्हें 'ऋतस्यगोप' भी कहा जाता था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=वरुण&oldid=210924" से लिया गया