भारतकोश ज्ञान का हिन्दी महासागर  

आज का दिन - 24 फ़रवरी 2017 (भारतीय समयानुसार)
Calendar icon.jpg भारतकोश कॅलण्डर Calendar icon.jpg
Calender-Icon.jpg

यदि दिनांक सूचना सही नहीं दिख रही हो तो कॅश मेमोरी समाप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें

भारतकोश हलचल

भारतकोश हलचल

फुलैरा दौज (28 फ़रवरी) रामकृष्ण परमहंस जयन्ती (28 फ़रवरी) राष्ट्रीय विज्ञान दिवस (28 फ़रवरी) महाशिवरात्रि (24 फ़रवरी) केन्द्रीय उत्पाद शुल्क दिवस (24 फ़रवरी) विजया एकादशी (22 फ़रवरी) दयानंद सरस्वती जयन्ती (21 फ़रवरी) अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस (21 फ़रवरी) गुरु रामदास जयंती (20 फ़रवरी) अरुणाचल प्रदेश स्थापना दिवस (20 फ़रवरी) मिज़ोरम स्थापना दिवस (20 फ़रवरी) तारापुर शहीद दिवस (15 फ़रवरी) संकष्टी चतुर्थी (14 फ़रवरी) विश्व रेडियो दिवस (13 फ़रवरी) रविदास जयंती (10 फ़रवरी) माघ पूर्णिमा (10 फ़रवरी) गुप्त नवरात्र समाप्त (5 फ़रवरी) विश्व कैंसर दिवस (4 फ़रवरी) नर्मदा जयंती (3 फ़रवरी) रथ सप्तमी (3 फ़रवरी)


जन्म
जयन्त तालुकदार (2 मार्च) मैरी कॉम (1 मार्च) कुंजारानी देवी (1 मार्च) रवीन्द्र जैन (28 फ़रवरी) नरेंद्र शर्मा (28 फ़रवरी) विजय सिंह पथिक (27 फ़रवरी) मृणाल पाण्डे (26 फ़रवरी) अमरनाथ झा (25 फ़रवरी) तलत महमूद (24 फ़रवरी) जॉय मुखर्जी (24 फ़रवरी) जयललिता (24 फ़रवरी)
मृत्यु
सरोजिनी नायडू (2 मार्च) सोहन लाल द्विवेदी (1 मार्च) कमला नेहरू (28 फ़रवरी) राजेन्द्र प्रसाद (28 फ़रवरी) राणा उदयसिंह (28 फ़रवरी) चंद्रशेखर आज़ाद (27 फ़रवरी) इन्दीवर (27 फ़रवरी) नानाजी देशमुख (27 फ़रवरी) गणेश वासुदेव मावलंकर (27 फ़रवरी) के. सी. रेड्डी (27 फ़रवरी) वीर सावरकर (26 फ़रवरी) नर्मद (26 फ़रवरी) मन्नत्तु पद्मनाभन (25 फ़रवरी) बी. नागी रेड्डी (25 फ़रवरी) ललिता पवार (24 फ़रवरी) रुक्मिणी देवी अरुंडेल (24 फ़रवरी)

B.Nagi.Reddi.jpg
Mannathu-Padmanabha-Pillai.jpg
Amarnath-jha.jpg
Jayalalita.jpeg
Rukmini-Devi-Arundale-1.jpg
Joy-Mukherjee.jpg
Talat-Mahmood.jpg
Shiva.jpg

भारतकोश सम्पादकीय

भारतकोश सम्पादकीय -आदित्य चौधरी
सत्ता का रंग
Shershah-suri.jpg

     शेरशाह सूरी जब दिल्ली की गद्दी पर बैठा तो कहते हैं कि सबसे पहले वह शाही बाग़ के तालाब में अपना चेहरा देखकर यह परखने गया कि उसका माथा बादशाहों जैसा चौड़ा है या नहीं !
जब शेरशाह से पूछा गया "आपके बादशाह बनने पर क्या-क्या किया जाय ?"
तब शेरशाह ने कहा "वही किया जाय जो बादशाह बनने पर किया जाता है!"
एक साधारण से ज़मीदार परिवार में जन्मा ये 'फ़रीद' जब हुमायूँ को हराकर 'बादशाह शेरशाह सूरी' बना तो उसने सबसे पहले यही सोचा कि उसका आचरण बिल्कुल बादशाहों जैसा ही हो। शेरशाह ने सड़कें, सराय, प्याऊ आदि विकास कार्य तो किए, लेकिन हिंदुओं पर लगने वाले कर 'जज़िया' को नहीं हटाया, क्योंकि अफ़ग़ानी सहयोगियों को ख़ुश रखना ज़्यादा ज़रूरी था। पूरा पढ़ें

पिछले सभी लेख घूँघट से मरघट तक शहीद मुकुल द्विवेदी के नाम पत्र

एक आलेख

एक आलेख
होली के विभिन्न दृश्य

        होली भारत का प्रमुख त्योहार है। पुराणों में वर्णित है कि हिरण्यकशिपु की बहन होलिका वरदान के प्रभाव से नित्य अग्नि स्नान करती थी। हिरण्यकशिपु ने अपनी बहन होलिका से प्रह्लाद को गोद में लेकर अग्निस्नान करने को कहा। उसने समझा कि ऐसा करने से प्रह्लाद अग्नि में जल जाएगा तथा होलिका बच जाएगी। होलिका ने ऐसा ही किया, किंतु होलिका जल गयी, प्रह्लाद बच गये। इस पर्व को 'नवान्नेष्टि यज्ञपर्व' भी कहा जाता है, क्योंकि खेत से आये नवीन अन्न को इस दिन यज्ञ में हवन करके प्रसाद लेने की परम्परा भी है। उस अन्न को 'होला' कहते है। इसी से इसका नाम 'होलिकोत्सव' पड़ा। सभी लोग आपसी भेदभाव को भुलाकर इसे हर्ष व उल्लास के साथ मनाते हैं। होली पारस्परिक सौमनस्य एकता और समानता को बल देती है। ... और पढ़ें

पिछले आलेख विमुद्रीकरण भारतीय संस्कृति

एक व्यक्तित्व

एक व्यक्तित्व
Abul-Kalam-Azad.gif

        मौलाना अबुलकलाम आज़ाद एक मुस्लिम विद्वान, स्वतंत्रता सेनानी एवं वरिष्ठ राजनीतिक नेता थे। उन्होंने हिन्दू-मुस्लिम एकता का समर्थन किया और सांप्रदायिकता पर आधारित देश के विभाजन का विरोध किया। स्वतंत्र भारत में वह भारत सरकार के पहले शिक्षा मंत्री थे। उन्हें 'मौलाना आज़ाद' के नाम से जाना जाता है। संगीत नाटक अकादमी (1953), साहित्य अकादमी (1954) और ललित कला अकादमी (1954) की स्थापना में अहम भूमिका थी। वर्ष 1992 में मरणोपरान्त इन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया। एक इंसान के रूप में मौलाना महान थे, उन्होंने हमेशा सादगी का जीवन पसंद किया। उनमें कठिनाइयों से जूझने के लिए अपार साहस और एक संत जैसी मानवता थी। उनकी मृत्यु के समय उनके पास कोई संपत्ति नहीं थी और न ही कोई बैंक खाता था। वह अपने वरिष्ठ साथी 'ख़ान अब्दुलगफ़्फ़ार ख़ाँ' और अपने कनिष्ठ 'अशफ़ाक़ उल्ला ख़ाँ' के साथ रहे। ... और पढ़ें

पिछले लेख सी. डी. देशमुख खाशाबा जाधव

एक खेल

एक खेल
Kabaddi.jpg

         कबड्डी एक सामूहिक खेल है, जो प्रमुख रूप से भारत में खेला जाता है। कबड्डी नाम का प्रयोग प्राय: उत्तर भारत में किया जाता है, इस खेल को दक्षिण भारत में चेडु-गुडु और पूरब में हु तू तू के नाम से भी जानते हैं। भारत के साथ पड़ोसी देशों में भी कबड्डी बड़े पैमाने पर खेली जाती है। विभिन्न क्षेत्रों में इसके अलग-अलग नाम हैं। बांग्लादेश में हा-दो-दो; श्रीलंका में गुड्डु और थाईलैंण्ड में थीचुब। यद्यपि यह खेल थोड़ी भिन्नता के साथ खेला जाता है, पर शत्रु क्षेत्र में आक्रमण का मूलतंत्र सभी में समान रहता है। ...और पढ़ें

पिछला लेख → ओलम्पिक खेल क्रिकेट

एक नदी

एक नदी
Narmada-River2.jpg

        नर्मदा नदी भारत के मध्यभाग में पूरब से पश्चिम की ओर बहने वाली एक प्रमुख नदी है, जो गंगा के समान पूजनीय है। नर्मदा का उद्गम विंध्याचल की मैकाल पहाड़ी शृंखला में अमरकंटक नामक स्थान में है। मैकाल से निकलने के कारण नर्मदा को 'मैकाल कन्या' भी कहते हैं। स्कंद पुराण में इस नदी का वर्णन 'रेवा खंड' के अंतर्गत किया गया है। कालिदास के ‘मेघदूतम्’ में नर्मदा को 'रेवा' का संबोधन मिला है, जिसका अर्थ है- पहाड़ी चट्टानों से कूदने वाली। अमरकंटक में सुंदर सरोवर में स्थित शिवलिंग से निकलने वाली इस पावन धारा को 'रुद्र कन्या' भी कहते हैं, जो आगे चलकर नर्मदा नदी का विशाल रूप धारण कर लेती हैं। पवित्र नदी नर्मदा के तट पर अनेक तीर्थ हैं, जहां श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है। इनमें कपिलधारा, शुक्लतीर्थ, मांधाता, भेड़ाघाट, शूलपाणि, भड़ौंच उल्लेखनीय हैं। अमरकंटक की पहाड़ियों से निकल कर छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात से होकर नर्मदा क़्ररीब 1310 किमी का प्रवाह पथ तय कर भरौंच के आगे खंभात की खाड़ी में विलीन हो जाती है। ... और पढ़ें

सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी
Quiz-icon-2.png

महत्त्वपूर्ण आकर्षण

महत्त्वपूर्ण आकर्षण

स्वतंत्र लेखन

भारतकोश पर स्वतंत्र लेखन


समाचार

समाचार
PSLV-c37.jpg
PV-Sindhu-China-Open-Series-winner.jpg
₹500 और ₹1000 के नोटों का विमुद्रीकरण
कबड्डी विश्व कप जीतने के बाद भारतीय टीम
भारतकोश संस्थापक श्री आदित्य चौधरी ‘भाषा दूत’ पुरस्कार से सम्मानित


कुछ लेख

कुछ लेख

तात्या टोपे   •   भारत   •   औरंगज़ेब   •   के. कामराज   •   श्रावस्ती   •   गाय   •   अबुल फ़ज़ल   •   हिन्दू धर्म   •   गोविंद बल्लभ पंत   •   मैथिलीशरण गुप्त


भारतकोश ज्ञान का हिन्दी-महासागर
  • देखे गये पृष्ठ- 24,92,97,519
  • कुल पृष्ठ- 1,62,607
  • कुल लेख- 47,114
  • कुल चित्र- 15,067
  • 'भारत डिस्कवरी' विभिन्न भाषाओं में निष्पक्ष एवं संपूर्ण ज्ञानकोश उपलब्ध कराने का अलाभकारी शैक्षिक मिशन है।
  • कृपया यह भी ध्यान दें कि यह सरकारी वेबसाइट नहीं है और हमें कहीं से कोई आर्थिक सहायता प्राप्त नहीं है।
  • सदस्यों को सम्पादन सुविधा उपलब्ध है।
ब्रज डिस्कवरी
ब्रज डिस्कवरी पर जाएँ
ब्रज डिस्कवरी पर हम आपको एक ऐसी यात्रा का भागीदार बनाना चाहते हैं जिसका रिश्ता ब्रज के इतिहास, संस्कृति, समाज, पुरातत्व, कला, धर्म-संप्रदाय, पर्यटन स्थल, प्रतिभाओं, आदि से है।

चयनित चित्र

चयनित चित्र
सूर्य प्रतिमा, सूर्य मंदिर, कोणार्क



वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः