कोलकाता पर्यटन  

कोलकाता विषय सूची
कोलकाता पर्यटन
Kolkata-colaj.jpg
विवरण कोलकाता का भारत के इतिहास में महत्‍वपूर्ण स्‍थान है। कोलकाता शहर बंगाल की खाड़ी के ऊपर हुगली नदी के पूर्वी तट पर स्थित है।
राज्य पश्चिम बंगाल
ज़िला कोलकाता
स्थापना सन 1690 ई. में जॉब चार्नोक द्वारा स्थापित
भौगोलिक स्थिति उत्तर- 22°33′ - पूर्व -88°20′
मार्ग स्थिति कोलकाता शहर राष्‍ट्रीय राजमार्ग तथा राज्‍य राजमार्ग से पूरे देश से जुड़ा हुआ है। कोलकाता सड़क मार्ग भुवनेश्‍वर से 468 किलोमीटर उत्तर-पूर्व, पटना से 602 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व तथा रांची से 404 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में स्थित है।
प्रसिद्धि रसगुल्ला, बंगाली साड़ियाँ, ताँत की साड़ियाँ
कब जाएँ अक्टूबर से फ़रवरी
कैसे पहुँचें हवाई जहाज़, रेल, बस आदि से पहुँचा जा सकता है।
हवाई अड्डा नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा व दमदम हवाई अड्डा
रेलवे स्टेशन हावड़ा जंक्शन, सियालदह जंक्शन।
बस अड्डा बस अड्डा, कोलकाता
यातायात साइकिल-रिक्शा, ऑटो-रिक्शा, मीटर-टैक्सी, सिटी बस, ट्राम और मेट्रो रेल
क्या देखें कोलकाता पर्यटन
कहाँ ठहरें होटल, अतिथि ग्रह, धर्मशाला
क्या खायें रसगुल्ला, भात
क्या ख़रीदें हथकरघा सूती साड़ियाँ, रेशम के कपड़े, हस्‍तशिल्‍प से निर्मित वस्‍तुएँ भी ख़रीद सकते हैं।
एस.टी.डी. कोड 033
ए.टी.एम लगभग सभी
Map-icon.gif गूगल मानचित्र, कोलकाता हवाई अड्डा
अन्य जानकारी यह भारत का सबसे बड़ा शहर है और प्रमुख बंदरगाहों में से एक हैं। कोलकाता का पुराना नाम कलकत्ता था। 1 जनवरी, 2001 से कलकत्ता का नाम आधिकारिक तौर पर कोलकाता हुआ।
बाहरी कड़ियाँ आधिकारिक वेबसाइट
अद्यतन‎
कोलकाता एक धार्मिक शहर है। यहाँ आपको हर ग‍ली में मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारा, यहूदी सभागार आदि मिल जाएँगे। इन मंदिरों और मस्जिदों के अलावा भी यहाँ देखने लायक़ बहुत कुछ है। यहाँ संग्रहालय, ऐतिहासिक भवन, आर्ट गैलरियाँ भी हैं जिन्‍हें आप देख सकते हैं। यह एक पर्यटक स्थल है।

पर्यटन स्थल

नकोदा मस्जिद

  • नकोदा मस्जिद सिकंदरा में बने अकबर के मक़बरे की अनुकृति है।
  • यह कोलकाता की सबसे बड़ी मस्जिद है।

पारसनाथ जैन मंदिर

  • यह मंदिर जैनों के 10वें तीर्थंकर शीतलनाथ को समर्पित है।
  • इस मंदिर को बनाने में शीशे, पत्‍थर तथा मोजक का सुंदर सम्मि‍श्रण किया गया है।

विद्यासागर सेतु

  • यह सेतु हुगली नदी पर बना हुआ है और कोलकाता से हावड़ा को जोड़ता है।
  • 19वीं शताब्दी के बंगाली समाज सुधारक ईश्वर चंद्र विद्यासागर के नाम पर इस सेतु का नाम रखा गया है।
  • 'स्टील रोपवे' पर आधारित विद्यासागर सेतु की कुल लंबाई 2700 फुट तथा ऊँचाई और चौड़ाई 115 फुट है।

संत पाल कैथेड्रल

  • यह कैथेड्रल कारीगरी का अदभूत नमूना है।
  • इसकी दीवारों पर 'फ्रीस्‍को शैली' (इस शैली में दीवार के कच्‍चे पलास्‍टर पर चित्रकारी की जाती है) में बना हुआ है।

बेलूर मठ

  • बेलूर मठ स्वामी विवेकानन्द का निवास स्‍थान रहा है।
  • बेलूर मठ रामकृष्ण मिशन का मुख्यालय है।
  • यहाँ आने वाले को इस मंदिर में शाम के समय होने वाली आरती को जरुर देखना चाहिए।

दक्षिणेश्‍वर मंदिर

  • यह मंदिर हुगली नदी तट पर बेलूर मठ के दूसरी तरफ स्थित है।
  • इसी मंदिर में रामकृष्ण परमहंस को दक्षिणेश्वर काली ने दर्शन दिया था।
  • इस मंदिर में देश के कोने-कोने से लोग आते हैं। लंबी-लंबी कतारों में घंटो खड़े होकर माँ के दर्शन का इंतज़ार करते हैं।

कालीघाट काली मंदिर

  • कोलकाता के कालीघाट में देवी काली का प्रसिद्ध मंदिर है।
  • काली मंदिर में देवी काली के प्रचंड रूप की प्रतिमा स्‍थापित है।
  • इस प्रतिमा में देवी काली भगवान शिव के छाती पर पैर रखी हुई हैं।

बिड़ला मंदिर

  • यह कोलकाता में स्थित मंदिरों में सबसे नया है।
  • इस मंदिर का निर्माण उड़ीसा में स्थित मंदिरों की बनावट के आधार पर किया गया है।

आर्मेनियन चर्च

  • आर्मेनियन चर्च कोलकाता का सबसे पुराना चर्च है।
  • आर्मेनियन चर्च में पश्‍िचम बंगाल का विधानसभा तीन सप्‍ताह तक चला है।

मगहेन डेविड सैंगोरियम

कोलकाता के विभिन्न पर्यटन स्थलों के दृश्य
पारसनाथ जैन मंदिर
पारसनाथ जैन मंदिर, कोलकाता
संत पाल कैथेड्रल
संत पाल कैथेड्रल, कोलकाता
बेलूर मठ
बेलूर मठ, कोलकाता
दक्षिणेश्‍वर मंदिर
दक्षिणेश्‍वर मंदिर, कोलकाता
बिड़ला मंदिर
बिड़ला मंदिर, कोलकाता
ईडेन गार्डन
ईडेन गार्डन, कोलकाता
राष्ट्रीय संग्रहालय
राष्ट्रीय संग्रहालय, कोलकाता
विक्टोरिया मेमोरियल
विक्टोरिया मेमोरियल, कोलकाता
राष्ट्रीय पुस्तकालय
राष्ट्रीय पुस्तकालय, कोलकाता
मार्बल पैलेस
मार्बल पैलेस, कोलकाता
हावड़ा ब्रिज
हावड़ा ब्रिज, कोलकाता
कलकत्ता विश्वविद्यालय
साल्ट लेक सिटी स्टेडियम, कोलकाता
विद्यासागर सेतु
  • मगहेन डेविड सैंगोरियम कोलकाता का सबसे पुराना पूजा स्‍थल है।
  • मगहेन डेविड सैंगोरियम के टॉवर से शहर का विहंगम नज़ारा दिखता है।

राइटर्स बिल्डिंग

  • यह भवन अंग्रेज़ों के शासन काल में लेखकों तथा ईस्‍ट इंडिया कंपनी के निम्‍न अधिकारियों के मुख्‍यालय के रूप में काम करता था।
  • आज यह भवन पश्‍िचम बंगाल सरकार के सचिवालय के रूप में काम करता है।

जेनरल पोस्‍ट ऑफिस

  • जेनरल पोस्‍ट ऑफिस बीबीडी बाग़ में स्थित है।
  • जेनरल पोस्‍ट ऑफिस के अंदर में एक पोस्‍टल म्‍यूजियम भी है।

राजभवन

  • राजभवन 200 वर्ष पुराना है।
  • राजभवन पश्‍िचम बंगाल के राज्‍यपाल का निवास स्‍थल है।

शहीद मीनार

  • शहीद मीनार 1828 ई. में डॉ. डेविड ऑक्‍टरलोनी के याद में बनवाया गया था।
  • शहीद मीनार का आधार मिस्र की शैली में, खम्‍भे सीरियन शैली में तथा गुम्‍बज तुर्क शैली में बना हुआ है।

ईडेन गार्डन

  • ईडेन गार्डन को रणजी क्रिकेट स्‍टेडियम के नाम से भी जाना जाता है।
  • एक छोटे से तालाब में बर्मा का पेगोडा स्थापित किया गया है, जो इस गार्डन का विशेष आकर्षण है।

नेशनल म्‍यूजियम

  • नेशनल म्‍यूजियम एशिया के सबसे पुराने म्‍यूजियमों में से एक है।
  • नेशनल म्‍यूजियम में जीवाश्‍म, प्राचीन सिक्‍के, पत्‍थर, गांधार कलाकृति, उल्‍कापिंड इत्‍यादि महत्‍वपूर्ण चीज़ें रखी हुई हैं।
  • कहा जाता है कि यह एक कलश है और उस कलश में भगवान बुद्ध के अस्‍थ‍ि अवशेष रखे हुए हैं।

एशियाटिक सोसाइटी

  • एशियाटिक सोसाइटी में एशिया का प्रथम आधुनिक संग्रहालय था।
  • लेकिन इसके संग्रह की अधिकांश वस्‍तुएं अब इंडियन म्‍युजियम में रख दी गई हैं।

जोराशंको ठाकुरबाड़ी

शोभाबाज़ार राजवारी

  • शोभाबाज़ार राजवारी में 1757 ई. से ही दुर्गा पूजा सार्वजनिक रूप से मनाने का रिवाज है।
  • यह रिवाज राजा नोवोकिसना देव के समय में आरम्‍भ हुआ था।

विक्‍टोरिया मेमोरियल

  • मार्बल का बना यह स्‍मारक ब्रिटिश और मुग़ल वास्‍तुशैली का अदभुत संगम है।
  • विक्‍टोरिया मेमोरियल की दीवारों पर बेहतरीन नक्‍काशी की गई है।
  • विक्‍टोरिया मेमोरियल में एक शानदार संग्रहालय है, जहाँ रानी के पियानो और स्टडी-डेस्क सहित 3000 से अधिक वस्तुएं प्रदर्शित की गई हैं।

नेशनल लाइब्रेरी

  • नेशनल लाइब्रेरी बेलबेडरे हाउस में स्थित है।
  • नेशनल लाइब्रेरी में क़रीब 1800000 पुस्‍तकों तथा दस्‍तावेजों का संग्रह है।

फोर्ट विलियम

  • फोर्ट विलियम हुगली नदी के तट पर बना हुआ है।
  • वर्तमान में यहाँ सैनिक छावनी है।

मार्बल पैलेस

  • मार्बल पैलेस भारतीय और पश्‍िचमी हस्‍तशिल्‍पों का सुंदर संग्रह है।
  • 1800 ई. में यह पैलेस एक अमीर बंगाली ज़मींदार का आवास था।
  • मार्बल पैलेस में प्रतिदिन केवल 4000 पर्यटक ही घूमने के लिए आ सकते हैं।

संत जॉन चर्च

  • संत जॉन चर्च 175 फीट ऊँचा है।
  • संत जॉन चर्च में कोलकाता शहर के संस्‍थापक जॉब चारनाक की समाधि है।

हावड़ा पुल

  • हावड़ा पुल आज कोलकाता की पहचान बन चुका है।
  • हावड़ा पुल को रविंद्रा सेतु भी कहा जाता है।
  • हावड़ा पुल पर आप सुबह के सैर का भी मजा ले सकते हैं।

अलीपुर चिडि़याघर

  • अलीपुर चिडि़याघर कोलकाता का यह मशहूर चिड़ियाघर है।
  • यहाँ रीछ, रॉयल बंगाल बाघ, हाथी सहित बहुत से जानवर दिख जाएँगे।

मिशनरीज ऑफ चैरिटी

  • मिशनरीज ऑफ चैरिटी भवन विभिन्‍न मिशनरियों का मुख्‍यालय है।
  • मिशनरीज ऑफ चैरिटी 54 A, ऐजेसी- बोस रोड पर स्थित है।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका-टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कोलकाता_पर्यटन&oldid=599803" से लिया गया