निष्क  

शब्द संदर्भ
हिन्दी (प्राचीन काल का) एक सोने का सिक्का, उक्त सिक्के के बराबर की तौल 1 कर्ष या 16 माशा, सुवर्ण, सोना, सोने का बना हार।
-व्याकरण    पुल्लिंग, धातु
-उदाहरण   निष्क का अर्थ होता है-स्वर्ण मुद्रा। स्वर्ण मुद्राएँ आपत्ति काल में मनुष्य को बहुत सहयोग देती है।
-विशेष    प्राचीन गणितज्ञ भास्कराचार्य ने अपनी कृति 'लीलावती' में निष्क में 16 द्रम्य, 1 द्रम्य 16 पण, 1 पण में 4 काकिणी और 1 काकिणी में 20 कौड़ी बतायी हैं। इस प्रकार 1 निष्क=20480 कौड़ियाँ तथा न निष्क=256 पण। पहले कौड़ियाँ सबसे छोटे सिक्के की तरह प्रयुक्त होती थीं। निष्क के मान में समय-समय पर अंतर भी रहा है।
-विलोम   
-पर्यायवाची   
संस्कृत निष्क्+अच्
अन्य ग्रंथ
संबंधित शब्द निष्कण्टक
संबंधित लेख

अन्य शब्दों के अर्थ के लिए देखें शब्द संदर्भ कोश

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=निष्क&oldid=317737" से लिया गया