फड़ चित्रांकन  

फड़ चित्रांकन राजस्थान की प्रसिद्ध हस्तकलाओं में से एक है।

  • राज्य में देवी-देवताओं की गाथाओं को चित्रों के माध्यम से बांचने की कला फड़ कहलाती है।
  • प्रधान केन्द्र शाहपुरा (भीलवाड़ा) है।
  • लोक देवता तथा देवी के जीवन को कपड़े पर चित्रित करना चित्रांकन कहलाता है।
  • फड़ के केन्द्रीय भाग में मुख्य देवता का चित्र अंकित होता है।
  • उस देवता के जन्म, शिक्षा, विवाह, युद्ध, तथा मृत्यु को चित्रों के माध्यम से दर्शाया जाता है।
  • फड़ का मुख्य पात्र लाल रंग की पौशाक में तथा हरे रंग की पौशाक से दर्शाया जाता है।
  • भोपा तथा भोपी इस फड़ का वाचन वाद्य यंत्र साथ है।

देवनारायण जी की फड़

  • देवनारायण जी की फड़ राजस्थान राज्य की सबसे लम्बी लोकगाथा वाली फड़ है।
  • जन्तर नामक वाद्य यंत्र का प्रयोग किया जाता है।
  • इस फड़ का वाचन गुर्जर जाति के अविवाहित भोपा-भोपी द्वारा किया जाता है। यह राज्य की सर्वाधिक प्राचीन चित्रकला है।
  • 1992 ई. में भारतीय डाक विभाग ने देव नारायण जी की डाक टिकट जारी किया।

पाबुजी की फड़

  • इस फड़ का वाचन रेबारी/ थौरी जाति के भौपों जाता है।
  • इस फड़ के वाचन में रावण हत्था नामक वाद्यययंत्र का प्रयोग किया जाता है।
  • ऊंट के बीमार होने पर इस फड़ का वाचन किया जाता है।
  • पाबुजी की फड़ राज्य की सर्वाधिक लोकप्रिय फड़ है।

रामदेव जी की फड़

  • रामदेव जी की फड़ का वाचन कामड़ जाति के भोपा-भोपी द्वारा किया जाता है।
  • रावणहत्था नामक वाद्य यंत्र का प्रयोग किया जाता है।

रामदला व कृष्ण दला की फड़

  • यह फड़ हाडौती क्षेत्र में लोकप्रिय है।
  • इस फड़ का वाचन दिन के समय किया जाता है।
  • इस फड़ के वाचन में वाद्य यंत्र का प्रयोग नहीं होता है।
  • भाट जाति के भोपों द्वारा इस फड़ का वाचन किया जाता है।

भैंसासुर की फड़

  • इस फड़ का वाचन नहीं होता है, केवल दर्शन किए जाते हैं।
  • यह फड़ बावरी जाति में लोकप्रिय है।
  • अपराध करने से पूर्व यह जाति इस फड़ के दर्शन शगुन के रूप में करती है।

अमिताभ की फड़

  • इस फड़ का निर्माण भोपा रामलाल व भोपी पताशी ने किया।
  • फड़ चित्रांकन में भीलवाड़ा का जोशी परिवार सलंग्न है।
  • पार्वती जोशी पहली महिला फड़ चित्रकार है।
  • श्रीलाल जोशी व प्रदीप मुखर्जी (जयपुर) मुख्य फड़ चित्रकार है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. राजस्थान की हस्तकलाऐं (हिन्दी) RajasthanGyan.com। अभिगमन तिथि: 3 मार्च, 2015।

बाहरी कड़ियाँ

"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=फड़_चित्रांकन&oldid=521422" से लिया गया