मुहम्मद बहमनी शाह प्रथम  

मुहम्मद शाह प्रथम बहमनी वंश का द्वितीय सुल्तान था, जिसने 1358 से 1373 ई. तक शासन किया। उसके शासन का अधिकांश समय दक्षिण के विजयनगर और उत्तर में वारंगल के काकतीय हिन्दू राजवंशों से युद्धों में ही बीता। वह कठोर शासक था और अपने सारे राज्य में उसने चोरी-डकैती, लूटमार की अराजकता को पूर्णतया दबा दिया। उसने नयी शासन व्यवस्था चलायी जिसका संचालन केन्द्र उसके आठ मंत्रियों द्वारा होता था। उसने महल के रक्षकों की गारद का पुनर्गठन किया। उसने प्रान्तों के वार्षिक शाही दौरे की प्रथा भी प्रचलित की, जिससे उन पर प्रभावशाली नियंत्रण बना रहे। उसकी मृत्यु अत्यधिक मद्यपान के कारण हुई।


बहमनी वंश
Arrow-left.png पूर्वाधिकारी
अलाउद्दीन बहमन शाह प्रथम
मुहम्मद बहमनी शाह प्रथम उत्तराधिकारी
मुज़ाहिद बहमनी
Arrow-right.png


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मुहम्मद_बहमनी_शाह_प्रथम&oldid=235317" से लिया गया