लवणासुर  

लवणासुर हिन्दुओं के महाकाव्य रामायण के अनुसार एक दैत्य था, जो दैत्यों के राजा मधु का पुत्र था। इसका वध भगवान श्री राम के छोटे भाई शत्रुघ्न के हाथों हुआ था।

  • मथुरा से लगभग साढ़े तीन मील दक्षिण-पश्चिम की ओर स्थित मधुवन ग्राम वाल्मीकि रामायण में वर्णित मधुपुरी के स्थान पर बसा हुआ था।
  • मधुपुरी को मधु नामक दैत्य ने बसाया था।
  • उसके पुत्र लवणासुर को शत्रुघ्न ने युद्ध में पराजित कर उसका वध कर दिया था।
  • बाद में शत्रुघ्न ने मधुपुरी के स्थान पर नई मथुरा नगरी बसाई।
  • महोली ग्राम को आजकल मधुवन-महोली कहा जाता है।
  • पारंपरिक अनुश्रुति में मधु दैत्य की मथुरा और उसका मधुवन इसी स्थान पर थे।
  • यहाँ लवणासुर की गुफ़ा नामक एक स्थान है, जिसे मधु के पुत्र लवणासुर का निवास स्थान माना जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=लवणासुर&oldid=269799" से लिया गया