हेलिओक्लीज़  

  • हेलिओक्लीज़ बैक्ट्रिया का अन्तिम यवन राजा था। उसके शासन काल में बैक्ट्रिया पर शकों के आक्रमण शुरू हो गए, और उन्होंने शीघ्र ही वहाँ से यवन शासन का अन्त कर दिया।
  • यद्यपि शकों के आक्रमणों के कारण बैक्ट्रिया से युक्रेटीदस के राजवंश का अन्त हो गया था, पर उसके साम्राज्य के भारतीय प्रदेश बाद में भी हेलिऔक्लीज़ की अधीनता में रहे, और वह स्वतंत्र राजा के रूप में शासन करता रहा।
  • हेलिओक्लीज़ के वंश में ही आगे चलकर एण्टिआल्कीडस (Antialkidas) और हारमाओस (Harmaous) नामक राजा हुए, जिनका शासन सम्भवतः क़ाबुल व उसके समीपवर्ती प्रदेशों में विद्यमान था।
  • इन राजाओं के अनेक सिक्के इस प्रदेश से उपलब्ध हुए हैं।
  • प्रथम सदी ई. पू. में कुषाण आक्रान्ताओं ने इनको अपने अधीन कर लिया।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=हेलिओक्लीज़&oldid=317741" से लिया गया