बाल ठाकरे  

बाल ठाकरे
बाल ठाकरे
पूरा नाम बालासाहेब केशव ठाकरे
जन्म 23 जनवरी, 1926
जन्म भूमि पुणे, महाराष्ट्र
मृत्यु 17 नवंबर, 2012 (उम्र- 86)
मृत्यु स्थान मुम्बई, महाराष्ट्र
मृत्यु कारण दिल का दौरा
अभिभावक पिता- केशव सीताराम ठाकरे
पति/पत्नी मीना ठाकरे
संतान तीन पुत्र (स्‍वर्गीय बिंदुमाधव, जयदेव और उद्धव ठाकरे)
नागरिकता भारतीय
पार्टी शिव सेना
भाषा मराठी
अन्य जानकारी बाल ठाकरे शिव सेना के मुखपत्र मराठी अख़बार 'सामना' और हिन्‍दी अख़बार 'दोपहर का सामना' के संस्थापक थे।

बालासाहेब केशव ठाकरे (अंग्रेज़ी: Bal Thackeray, जन्म: 23 जनवरी, 1926; मृत्यु: 17 नवंबर, 2012) भारत के महाराष्ट्र राज्य के प्रसिद्ध राजनेता थे। उन्होंने शिव सेना नामक हिन्दू राष्ट्रवादी दल का गठन किया।

जीवन परिचय

बाल ठाकरे का जन्‍म तत्‍कालीन बॉम्‍बे रेजिडेंसी के पुणे में 23 जनवरी 1926 को एक मराठी परिवार में हुआ था। बाल ठाकरे का जन्‍म नाम बाल केशव ठाकरे था। बालासाहब ठाकरे और हिंदू हृदय सम्राट के नाम से भी उन्‍हें जाना जाता है। बाल ठाकरे हिंदूवादी राजनीति पार्टी 'शिव सेना' के संस्थापक हैं। उनकी पार्टी की महाराष्ट्र में अच्‍छी पकड़ है और बाहरी लोगों के विरोध के कारण उन्‍हें ज्‍यादा पहचान मिली।[1]

कैरियर की शुरुआत

बाल ठाकरे ने अपने कैरियर की शुरुआत मुंबई के एक अंग्रेज़ी दैनिक 'द फ्री प्रेस जर्नल' के साथ एक कार्टूनिस्‍ट के रूप में की। 1960 में बाल ठाकरे ने कार्टूनिस्‍ट की यह नौकरी छोड़ दी और अपना राजनीतिक साप्‍ताहिक अख़बार मार्मिक निकाला। बाल ठाकरे के कार्टून 'टाइम्‍स ऑफ इंडिया' में भी हर रविवार को छपा करते थे। उनका राजनीतिक दर्शन उनके पिता से प्रभावित है। उनके पिता केशव सीताराम ठाकरे 'संयुक्‍त महाराष्‍ट्र मूवमेंट' के जाने-पहचाने व्यक्ति थे। बाल ठाकरे के पिता केशव सीताराम ठाकरे ने भाषायी आधार पर महाराष्‍ट्र राज्‍य के निर्माण में अच्‍छा योगदान दिया। 'मार्मिक' के माध्‍यम से बाल ठाकरे ने मुंबई में गुजरातियों, मारवाडियों और दक्षिण भारतीय लोगों के बढ़ते प्रभाव के ख़िलाफ़ मुहिम चलायी।[1]

'शिव सेना' का गठन

1966 में बाल ठाकरे ने मुंबई के राजनीतिक और व्‍यावसायिक परिदृष्‍य पर महाराष्‍ट्र के लोगों के अधिकार के लिए राजनीतिक पार्टी 'शिव सेना' का गठन किया। बाल ठाकरे शिव सेना के मुखपत्र मराठी अख़बार 'सामना' और हिन्‍दी अख़बार 'दोपहर का सामना' के संस्थापक थे।

परिवार

बाल ठाकरे की पत्‍नी का नाम मीना ठाकरे था, जिनका 1996 में देहांत हो गया। उनके तीन बेटे स्‍वर्गीय बिंदुमाधव, जयदेव और उद्धव ठाकरे हैं। उनके बड़े बेटे बिंदुमाधव ठाकरे की एक सड़क दुर्घटना में 20 अप्रैल 1996 को मुंबई-पुणे एक्सप्रेस वे पर मौत हो गई थी।[1]

निधन

कई दिनों से गंभीर रूप से बीमार रहे शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे का 86 वर्ष की उम्र में 17 नवंबर, 2012 को निधन हो गया। दोपहर साढ़े तीन बजे के क़रीब बाला साहब ठाकरे ने अंतिम सांस ली। चिकित्सकों के मुताबिक दिल का दौरा पड़ने से ठाकरे का निधन हुआ।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 हिंदू हृदय सम्राट कहलाते हैं बाल ठाकरे (हिन्दी) (एच.टी.एम.एल) आजतक। अभिगमन तिथि: 17 नवम्बर, 2012।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बाल_ठाकरे&oldid=618617" से लिया गया