यूनानी  

चित्रकार द्वारा डिमेट्रियस का सिक्के से बनाया हुआ चित्र

यूनानी अथवा 'यवन' यूरोप महाद्वीप में स्थित ग्रीस या यूनान के लोगों को कहते हैं। अंग्रेज़ी तथा अन्य पश्चिमी भाषाओं में इन्हें ग्रीक कहा जाता है।

  • हिन्दी-यूनानी राज्य की सीमाऍ भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तर-पश्चिम क्षेत्र पर ईसा पूर्व दो शताब्दी तक फैली रही। यहाँ तीस से अधिक राजाओं ने शासन किया जो अधिकतर आपसी झगडों में उलझे रहे।
  • यह साम्राज्य 'दमत्री' (डिमेट्रियस) ने दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व में भारत पर हमला करके स्थापित किया।
  • भारत की तत्कालीन सीमाएँ हिन्दूकुश तक थीं। भारतीय यूनानी राजाओं ने यूनानी-बैक्ट्रिया राज्य से अपने सम्पर्क समाप्त कर लिए थे।
  • इस राज्य में कई मुख्य नगर थे, जैसे- तक्षशिला, पुशकालवति और सागला।
मिलिंद (मिनांडर) का सिक्का
  • कर्टियस आदि यूनानी इतिहासकारों ने सिकन्दर के आक्रमण के समय मगध के राजा का नाम 'अग्रमस' अथवा 'क्सैन्द्रमस' लिखा है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=यूनानी&oldid=504345" से लिया गया