एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "२"।

अनामिका (कवयित्री)

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें

अनामिका (अंग्रेज़ी: Anamika; जन्म- 1961, मुजफ़्फ़रपुर, बिहार) आधुनिक समय में हिन्दी भाषा की प्रमुख कहानीकार और उपन्यासकार हैं। समकालीन हिन्दी कविता की चंद सर्वाधिक चर्चित कवयित्रियों में वे शामिल की जाती हैं। अंग्रेज़ी की प्राध्यापिका होने के बावजूद अनामिका ने हिन्दी कविता कोश को समृद्ध करने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी है। प्रख्यात आलोचक डॉ. मैनेजर पांडेय के अनुसार "भारतीय समाज एवं जनजीवन में जो घटित हो रहा है और घटित होने की प्रक्रिया में जो कुछ गुम हो रहा है, अनामिका की कविता में उसकी प्रभावी पहचान और अभिव्यक्ति देखने को मिलती है।" वहीं दिविक रमेश के कथनानुसार "अनामिका की बिंबधर्मिता पर पकड़ तो अच्छी है ही, दृश्य बंधों को सजीव करने की उनकी भाषा भी बेहद सशक्त है।"

प्रमुख कृतियाँ

अनामिका की कुछ प्रमुख कृतियाँ निम्नलिखित हैं-

कविता संग्रह
  • खुरदरी हथेलियाँ
  • गलत पते की चिट्ठी
  • दूब-धान
  • बीजाक्षर
  • कविता में औरत
कहानी संग्रह
  • प्रतिनायक
उपन्यास
  • दस द्वारे का पिंजरा
  • तिनका तिनके पास
  • अवांतर कथा


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख