नीलम सक्सेना चंद्रा  

नीलम सक्सेना चंद्रा
नीलम सक्सेना चंद्रा
पूरा नाम नीलम सक्सेना चंद्रा
जन्म 27 जून, 1969
जन्म भूमि नागपुर, महाराष्ट्र, भारत
अभिभावक शशि सक्सेना, संतोष सक्सेना
पति/पत्नी प्रफुल्ल चंद्रा
संतान सिमरन चंद्रा
कर्म भूमि लखनऊ, दिल्ली
कर्म-क्षेत्र लेखिका, प्रशासनिक अधिकारी
भाषा हिन्दी, अंग्रेज़ी
विद्यालय विश्वेश्वरय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, नागपुर
शिक्षा इंजीनियरिंग, मानव संसाधन विकास तथा वित्तीय प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा
पुरस्कार-उपाधि रबीन्द्रनाथ टैगोर अंतरराष्‍ट्रीय काव्य पुरस्कार, प्रेमचंद पुरस्कार, फ्रीडम सिटी अवॉर्ड
विशेष योगदान नीलम चंद्रा की 45 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें कविता, कहानी, बाल साहित्य इत्यादि विधाओं का समावेश है।
नागरिकता भारतीय
विधा गद्य और पद्य
अन्य जानकारी लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड और इंडिया बुक ऑफ़ रिकार्ड्स, मिरेकल बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में भी इनका नाम दर्ज है।
अद्यतन‎
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

नीलम सक्सेना चंद्रा (अंग्रेज़ी: Neelam Saxena Chandra, जन्म: 27 जून, 1969, नागपुर, महाराष्ट्र) हिंदी और अंग्रेज़ी भाषा की एक प्रसिद्ध आधुनिक लेखिका, कवियित्री, उपन्यासकार एवं गीतकार हैं। नीलम भारतीय अभियांत्रिकी सेवा अधिकारी हैं, जो वर्तमान में संघ लोक सेवा आयोग की संयुक्त सचिव के पद पर कार्यरत हैं। इनकी 45 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं, जिनमें कविता, कहानी, बाल साहित्य इत्यादि विधाओं का समावेश है।[1]

जीवन परिचय

नीलम का जन्म 27 जून, 1969 में महाराष्ट्र प्रान्त के नागपुर शहर में माता शशि सक्सेना और पिता संतोष सक्सेना के घर हुआ। इन्होंने नागपुर के विश्वेश्वरय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान से अभियान्त्रिकी में स्नातक के बाद मानव संसाधन विकास तथा वित्तीय प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा किया। भारतीय अभियांत्रिकी सेवा की परीक्षा उत्तीर्ण कर भारतीय रेल सेवा से जुड़ गई। वर्तमान में आप संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की जॉइंट सेक्रेटरी हैं।

लेखन परिचय

अब तक इनकी 700 से ज़्यादा कविताएं-कहानियां राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं। नीलम 45 पुस्तकों की लेखिका हैं। इनको एक साल में सबसे ज़्यादा 9 किताबें प्रकाशित कराने के लिए ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड’ द्वारा सम्मानित किया गया। इन्होंने अमेरिकी दूतावास द्वारा आयोजित काव्य प्रतियोगिता में भी अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। नीलम को प्रसिद्ध बॉलीवुड गीतकार गुलजार ने भी सम्मानित किया है।

सम्मान एवं पुरस्कार

  • नीलम चंद्रा को 2014 में फोर्ब्स इंडिया मैगज़ीन ने भारत की 78 लोकप्रिय लेखकों की सूची में शामिल किया।
  • इन्हें रेल मंत्रालय द्वारा प्रेमचंद पुरस्कार, रबीन्द्रनाथ टैगोर अंतरराष्‍ट्रीय काव्य पुरस्कार, चिल्‍ड्रेन ट्रस्ट अवॉर्ड सहित कई अन्य पुरस्कार प्राप्त हैं।
  • नीलम के लिखे गीत ‘मेरे साजन सुन सुन’ को रेडियो सिटी की ओर से फ्रीडम अवॉर्ड भी मिल चुका है।
  • नीलम और इनकी बेटी सिमरन चंद्रा को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड, मिरकल बुक ऑफ रिकॉर्ड और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड की ओर से प्रथम मां-पुत्री द्वारा प्रकाशित पुस्तक का अवॉर्ड मिला है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. "इस लेडी ऑफिसर की कलम बनी पैशन, दुनिया में हुई फेमस, जीते कई अवॉर्ड", दैनिक भास्कर , February 27, 2016

संबंधित लेख


वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=नीलम_सक्सेना_चंद्रा&oldid=590659" से लिया गया