किताब-उल-रेहला  

  • किताब-उल-रेहला में मोरक्कोवासी यात्री इब्न बतूता के यात्रा वृत्तांत का विवरण प्राप्त होता है।
  • इस पुस्तक में 1333 से 1342 तक के भारत की राजनीतिक गतिविधियों एवं सामाजिक हालातों का वर्णन है।
  • इसे मुहम्मद तुग़लक़ ने दिल्ली का क़ाज़ी नियुक्त किया था।
  • कालान्तर में मुहम्मद तुग़लक़ ने इब्न बतूता को दूत बनाकर चीन भेजा था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=किताब-उल-रेहला&oldid=596828" से लिया गया