गुलेरी चित्रकला  

गुलेरी चित्रकला चित्रकला की पहाड़ी शैली के अंतर्गत विकसित एक शैली है जिसके चित्रों का मुख्य विषय रामायण तथा महाभारत की घटनाएँ रही हैं।

  • गुलेरी चित्रकला शैली में इतना सशक्त एवं सजीव रेखांकन किया गया है कि मानव आकृतियों के अंग-प्रत्यंग अपनी स्वाभाविकता से दृष्टिगोचर होते हैं।
  • गुलेरी चित्रकला शैली में निर्मित चित्रों में संतुलन तथा गतिमयता का भाव परिलक्षित होता है।


टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गुलेरी_चित्रकला&oldid=497685" से लिया गया