चम्मच दौड़  

चम्मच दौड़ मे भाग लेते बच्चे

इस खेल में एक चम्मच में कंचा रखकर उस चम्मच को  मुंह से पकड़ना पड़ता है। कभी कभी प्रतियोगी को साड़ी या इसी तरह का कोई कपड़ा पहनना होता है, दौड़ने में असुविधा हो। खेल को कठिन बनाने के लिए इस प्रकार के नियम बनाये जाते हैं। एक, दो, तीन और यह प्रतियोगिता प्रारम्भ हो जाती है। इस दौड़ में चम्मच में रखा हुआ कंचा नहीं गिरना चाहिए, यदि कंचा चम्मच से गिर जाता है तो प्रतियोगी खेल से बाहर हो जाता है। यह बहुत ही रुचिकर पारम्परिक खेल है, जिसमें बच्चे शरीर को संतुलित करना सीखते है।

इन्हें भी देखें: जलेबी दौड़ एवं गुल्ली डंडा


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चम्मच_दौड़&oldid=545785" से लिया गया