मुम्बई प्रशासन  


मुम्बई प्रशासन
मुम्बई का एक दृश्य
विवरण मुम्बई महाराष्ट्र राज्य की राजधानी है। मुम्बई को भारत का प्रवेश द्वार भी कहा जाता है।
राज्य महाराष्ट्र
ज़िला मुम्बई
स्थापना तीसरी शताब्दी ई. पू में सम्राट अशोक द्वारा स्थापित
भौगोलिक स्थिति उत्तर- 18°58′30″, पूर्व- 72°49′33″
मार्ग स्थिति मुम्बई शहर सड़क द्वारा पुणे से 150 किमी, नासिक से 172 किमी, नागपुर से 847 किमी और दिल्ली से 1,398 किमी की दूरी पर स्थित है।
प्रसिद्धि गेटवे ऑफ इंडिया, होटल ताज, एलिफेंटा की गुफाएँ, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, जुहू चौपाटी आदि।
कब जाएँ अक्टूबर से मार्च
कैसे पहुँचें जलयान, हवाई जहाज़, रेल, बस आदि से पहुँचा जा सकता है।
हवाई अड्डा छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय विमानक्षेत्र, नवी मुंबई अन्तर्राष्ट्रीय विमानक्षेत्र, जुहू हवाई अड्डा
रेलवे स्टेशन छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, लोकमान्य तिलक टर्मिनस रेलवे स्टेशन, मुंबई सेंट्रल, मुंबई उपनगरीय रेलवे, दादर स्टेशन, विक्टोरिया रेलवे स्टेशन
बस अड्डा राज्य परिवहन टर्मिनल
यातायात साइकिल-रिक्शा, ऑटो-रिक्शा, टैक्सी, सिटी बस और मेट्रो रेल
क्या देखें मुम्बई पर्यटन
कहाँ ठहरें होटल, धर्मशाला, अतिथि ग्रह
क्या खायें वड़ा पाव, श्रीखंड, भेलपूरी, पूरन पोली, पोहा, साबूदाना वड़ा, फिरनी, मालपुआ, कटिंग चाय आदि
एस.टी.डी. कोड 022
ए.टी.एम लगभग सभी
Map-icon.gif गूगल मानचित्र
भाषा मराठी, हिन्दी, अंग्रेज़ी और गुजराती
अद्यतन‎
महाराष्ट्र की राजधानी के रूप में यह शहर राज्य प्रशासन का समेकित राजनीतिक खण्ड है, जिसके मुख्यालय को मंत्रालय कहा जाता है। राज्य सरकार पुलिस बल को नियंत्रित करती है और नगर के कुछ विभागों पर प्रशासनिक नियंत्रण रखती है। डाक एवं टेलीग्राफ़ प्रणाली, रेल, बंदरगाह और हवाई अड्डों जैसे संचार साधनों पर केन्द्र सरकार का नियंत्रण है।
बॉम्बे उच्च न्यायालय

मुम्बई में भारतीय नौसेना की पश्चिमी कमान का मुख्यालय भी है और यह भारतीय फ़्लैगशिप का बेस भी है। शहर का प्रशासन वृहद (ग्रेटर) मुम्बई के पूर्णतःस्वायत्त नगर निगम के अंतर्गत है। इसकी विधायी संस्था का निर्वाचन हर चार वर्ष में वयस्क मताधिकार द्वारा होता है और यह विभिन्न स्थायी समितियों के माध्यम से काम करती है। राज्य सरकार के द्वारा तीन वर्षों के लिए नियुक्त मुख्य कार्यकारी यहाँ का निगम आयुक्त होता है। महापौर का चुनाव हर वर्ष नगर निगम द्वारा किया जाता है; महापौर निगम की बैठकों की अध्यक्षता करता है और शहर में सर्वाधिक सम्मानित माना जाता है, लेकिन वस्तुतः उसके पास कोई सत्ता नहीं होती। 1885 में कांग्रेस के प्रथम स्थापना अधिवेशन मुम्बई में उत्तर प्रदेश से भाग लेने वाले मुख्य प्रतिनिधि गंगाप्रसाद वर्मा थे।

जनसुविधाएँ

निगम के कई कार्यों में चिकित्सा सेवा, शिक्षा, जलापूर्ति, अग्निशमन, कचरे की व्यवस्था, बाज़ार, उद्यान और इंजीनियरिंग परियोजनाओं का, जैसे निकास तथा सड़कों व गलियों में प्रकाश व्यवस्था को बेहतर बनाना, काम शामिल हैं। नगर निगम शहर में यातायात प्रणाली और विद्युत आपूर्ति को संचालित करता है।

ब्रेबोर्न स्टेडियम, मुम्बई

यहाँ सरकार और निजी क्षेत्र की एजेंसियों के द्वारा एक ग्रिड प्रणाली के ज़रिये बिजली शहर में वितरित की जाती है। जलापूर्ति व्यवस्था भी नगर निगम के द्वारा संचालित की जाती है और यह मुख्यतः निकटस्थ ठाणे ज़िले की तांसा झील, तुलसी व विहार झीलों से प्राप्त किया जाता है। मूलतः जलापूर्ति के लिए निर्मित पवई झील कारगर साबित नहीं हुई, क्योंकि इसका पानी पीने योग्य नहीं है।

स्वास्थ्य

इस शहर में 100 से अधिक अस्पताल हैं, जिनमें केन्द्र, राज्य सरकार और निगम संस्थाओं द्वारा संचालित अस्पताल और कई (क्षय-रोग, कैन्सर और हृदय रोगों के लिए) विशेष संस्थान शामिल हैं, यहाँ पर कई अग्रणी निजी अस्पताल भी हैं। यहाँ हेफ़काइन इंस्टिट्यूट भी है, जो एक अग्रणी बैक्टीरिया अनुसन्धान केन्द्र है, इसे उष्णकटिबन्धीय बीमारियों में विशिष्टता प्राप्त है।

सुरक्षा

शहर के पुलिस बल का प्रमुख पुलिस आयुक्त होता है, जो मुम्बई में क़ानून एवं व्यवस्था के लिए ज़िम्मेदार होता है, प्रशासनिक रूप से वह राज्य के गृह सचिव के प्रति जवाबदेह होता है।


पीछे जाएँ
मुम्बई प्रशासन
आगे जाएँ


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मुम्बई_प्रशासन&oldid=563308" से लिया गया