राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला  

राष्ट्रीय वायुमंडलीय अनुसंधान प्रयोगशाला अथवा 'एनएआरएल' भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का प्रमुख केन्द्र है। तिरुपति के पास गदंकी में स्थित एनएआरएल अंतरिक्ष विभाग द्वारा सहयोग प्राप्त एक स्वायत्त संस्था है। अब एनएआरएल देश में वायुमंडलीय अनुसंधान के प्रमुख केंद्रों में से एक बन गया है जिसने मूल वायुमंडलीय अनुसंधान, वायुमंडलीय अन्वेषण के लिए स्वदेशी प्रौद्योगिकी के विकास एवं मौसम तथा जलवायु प्रतिदर्शन में विशेषज्ञता प्राप्त की है।

  • एनएआरएल जीपीएस बैलून सोन्ड के नियमित प्रमोचन के अतिरिक्त, नियमित रूप से अत्याधुनिक एमएसटी राडार, रेली/ माइ लिडार, बाउंड्रीलेयर लिडार, सोडियम लिडार, निम्न वायुमंडलीय वायु प्रोफ़ाइलर, सोडार, डिस्ड्रोमीटर, प्रकाशीय वर्षा-मापी, दोहरी आवृत्ति वाले जीपीएस अभिग्राही का प्रचालन करता है।
  • अपेक्षाकृत नया होने के कारण, एनएआरएल की अनुसंधान सुविधाएँ राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिकों को वायुमंडलीय अनुसंधान करने के लिए उपलब्ध हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=राष्ट्रीय_वायुमंडलीय_अनुसंधान_प्रयोगशाला&oldid=281843" से लिया गया