सिंगी  

सिंगी या सींग या श्रृंग एक वाद्य यंत्र है।

  • यह भैंसे और हिरन के सींग का बना होता है अथवा घातु से बनाया जाता है।
  • कंठ से उत्पन्न ध्वनि को दबाकर वायु के सहारे से सिंगी द्वारा वादन करने पर तीन-वादन स्वर निकल आते हैं।
  • लोक- जीवन में सिंगी वादन के द्वारा अलग-अलग अवसरों पर इच्छित प्रभाव उत्पन्न किया जाता है।
  • युद्ध के समय बजने पर इसे रण-सिंगा भी कहते है।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सिंगी&oldid=298344" से लिया गया