अमृतराव  

  • पेशवा के इस प्रकार बसई भाग जाने से अमृतराव को पेशवा बनाया गया था।
  • बाजीराव द्वितीय को 1803 ई. के आरम्भ में अंग्रेज़ों के द्वारा दुबारा पेशवा बना दिया गया।
  • अमृतराव ने इसका जरा भी विरोध नहीं किया।
  • वह अंग्रेज़ों द्वारा पेंशन पाकर बनारस में रहने लगा।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अमृतराव&oldid=227781" से लिया गया