छड़ी का मेला  

ब्रज में श्रावण मास 9 को जाहरवीर बाबा के मन्दिर पर प्रात: बेला में पूजा अर्चना की जाती है और सायं को चांदी के घोड़े पर सवार जहारवीर की शोभा यात्रा निकाली जाती है। रात्रि बेला रमनटावर पर समूहों में जागरण होता है। लड्डू और दूध का प्रसाद लगाया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=छड़ी_का_मेला&oldid=263631" से लिया गया