थोड़ी सी धूल मेरी  

संक्षिप्त परिचय

थोड़ी सी धूल मेरी धरती की मेरे वतन की
थोड़ी सी ख़ुश्बू बौराई सी मस्त पवन की
थोड़ी सी झोंकने वाली धक धक धक धक धक धक साँसें
जिन में हो जुनूं जुनूं वो बूँदें लाल लहू की
ये सब तू मिला मिला ले फिर रंग तू खिला खिला ले
और मोहे तू रंग दे बसंती यारा मोहे तू रंग दे बसंती
मोहे मोहे तू रंग दे बसंती मोहे मोहे तू रंग दे बसंती

सपने रंग दे, अपने रंग दे
खुशियां रंग दे, ग़म भी रंग दे
नस्लें रंग दे, फ़सलें रंग दे
रंग दे धड़कन, रंग दे सरगम
रंग दे सूरज, रंग दे दर्पण
मोहे मोहे तू रंग दे बसंती यारा मोहे तू रंग दे बसंती

धीमी आँच पे तू ज़रा इश्क चढा
थोड़े झरने ला, थोड़ी नदी मिला
थोड़ा सागर ले, थोड़ी गागर ले
थोड़ा छिड़क छिड़क, थोड़ा हिला हिला
फिर एक रंग तू खिला खिला

बस्ती रंग दे, हस्ती रंग दे
हंस हंस रंग दे, नस नस रंग दे
बचपन रंग दे, जोबन रंग दे
अब देर न कर सचमुच रंग दे
रंगरेज़ मेरे सब कुछ रंग दे

मोहे मोहे तू रंग दे बसंती
मोहे मोहे तू रंग दे बसंती यारा

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=थोड़ी_सी_धूल_मेरी&oldid=271018" से लिया गया