प्रेमकथा  

प्रेमकथा सम्पूर्ण विश्व में किसी न किसी रूप में सुनने को मिलती हैं। विश्वप्रसिद्ध प्रेमकथाओं में राधा-कृष्ण, शकुंतला-दुष्यंत, सावित्री-सत्यवान जैसी पौराणिक कथाओं के अलावा रानी रूपमती-बाज़ बहादुर, सलीम-अनारकली, हीर-रांझा, लैला-मजनूं, सोहनी-महिवाल, ढोला-मारू जैसे प्रेम चरित्रों की गाथाएं अमर हैं।

प्रसिद्ध प्रेमकथाएँ

विश्व की सभी सभ्यताओं और समाजों ने अपनी भाषा में अत्यंत मर्मस्पर्शी प्रेम कहानियाँ लिखी हैं। इनमें कुछ तो साहित्य से जनता की जुबान पर चढ़ गईं और कुछ को साहित्य ने जनता की चढ़ी हुई जुबान से अपनाकर स्वयं को समृद्ध किया। इन कहानियों की ताकत का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ये कहानियाँ साहित्य, संगीत, चित्रकला और लोक कलाओं से जुड़कर जीवन के अनेक क्षेत्रों में परिव्याप्त हो गईं।

  1. नल दमयंती
  2. उर्वशी पुरुरवा
  3. सावित्री सत्यवान
  4. शकुंतला दुष्यंत
  5. लैला मजनूं
  6. सोहनी महिवाल
  7. हीर रांझा
  8. मिर्ज़ा साहिबां
  9. सस्सी पुन्नु
  10. ढोला मारू
  11. रानी रूपमती-बाज़ बहादुर
  12. रानी पद्मावती और रत्नसेन
  13. यूसुफ़ जुलेखा
  14. शीरीं फ़रहाद


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=प्रेमकथा&oldid=602148" से लिया गया