महामृत्युंजय मन्त्र  


  • महर्षि वसिष्ठ ने एक अत्यन्त महत्त्वपूर्ण मन्त्र की रचना की थी जो महामृत्युंजय मन्त्र कहलाता है।
  • इससे लम्बी आयु प्राप्त होती है तथा मृत्यु से रक्षा हो जाती है।
  • ऋग्वेद में यह मन्त्र इस प्रकार उपलब्ध है –

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिंं पुष्टिवर्धनम्
उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय्‌ मामृतात्‌॥

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=महामृत्युंजय_मन्त्र&oldid=568292" से लिया गया