संगा-चोलिंग मठ  

संगा-चोलिंग मठ
संगा-चोलिंग मठ, सिक्किम
विवरण यह मठ केवल पुरुषों के लिए आरक्षित है और पीला हठ संप्रदाय के अंतर्गत आता है।
राज्य सिक्किम
ज़िला पश्चिम सिक्किम
निर्माता लामा लहातसुन चेपों
स्थापना सन 1697
भौगोलिक स्थिति उत्तर- 27° 15' 50.00", पूर्व- 88° 13' 17.00"
कैसे पहुँचें हवाई जहाज़, रेल, बस आदि
हवाई अड्डा सिलीगुड़ी हवाई अड्डा
रेलवे स्टेशन सिलीगुड़ी रेलवे स्टेशन, न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन
यातायात रिक्शा, टैक्सी, सिटी बस
कहाँ ठहरें होटल, धर्मशाला, अतिथि ग्रह
एस.टी.डी. कोड 03592
ए.टी.एम लगभग सभी
संबंधित लेख युमथांग घाटी, रुमटेक मठ, सोमगो झील
अन्य जानकारी तिब्बती कैलेंडर के अनुसार हर महीने के दसवें दिन लामा इस मठ में भजन सुनाते हैं और प्रतिदिन सुबह-शाम प्रार्थना करते हैं।
अद्यतन‎

संगा-चोलिंग मठ सिक्किम के पेलिंग और पेमायंगत्से मठ के ऊपर पश्चिम सिक्किम ज़िले में स्थित है। एक गुप्त मंत्र की जगह के रूप में इस मठ को जाना जाता है।

  • लामा लहातसुन चेपों द्वारा सन 1697 में संगा-चोलिंग मठ का निर्माण कराया गया था, जो कि अब सिक्किम के प्राचीनतम मठों में शुमार किया जाता है।
  • तिब्बती कैलेंडर के अनुसार हर महीने के दसवें दिन लामा इस मठ में भजन सुनाते हैं और प्रतिदिन सुबह-शाम प्रार्थना करते हैं।
  • यह मठ केवल पुरुषों के लिए आरक्षित है और 'पीला हठ संप्रदाय' के अंतर्गत आता है।
  • संगा-चोलिंग मठ तक पहुँचने के लिए लगभग 40 मिनट की खड़ी चढ़ाई चढ़नी होती है।
  • इस मठ के चारों तरफ़ के जंगलों की ख़ूबसूरती बहुत ही मनमोहक है।
संगा चोलिंग मठ, सिक्किम


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=संगा-चोलिंग_मठ&oldid=300065" से लिया गया