स्नेहा चक्रधर  

स्नेहा चक्रधर
स्नेहा चक्रधर
पूरा नाम स्नेहा चक्रधर
अभिभावक अशोक चक्रधर, बागेश्री चक्रधर
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र भरतनाट्यम नृत्यांगना
पुरस्कार-उपाधि नाट्य रत्न पुरस्कार (2000), शास्त्रीय कला रत्न सम्मान (2010),
प्रसिद्धि नृत्यांगना
नागरिकता भारतीय
अद्यतन‎

स्नेहा चक्रधर (अंग्रेज़ी: Sneha Chakradhar) भारत की प्रसिद्ध शास्त्रीय नृत्यांगना हैं, जो भरतनाट्यम नर्तकी हैं। उन्होंने नौ वर्ष की उम्र से ही भरतनाट्यम की शास्त्रीय नृत्य शैली में प्रशिक्षण प्राप्त करना शुरू कर दिया था। स्नेहा नियमित रूप से भारत और दुनिया भर में भरतनाट्यम के कई प्रदर्शन कर चुकी हैं। पिछले तीन वर्षों में उन्होंने न्यूयॉर्क, लंदन, सिडनी और मेलबर्न में एकल प्रस्तुतियाँ दी हैं। भारत के जानेमाने हास्य कवि अशोक चक्रधर इनके पिता हैं। इनकी माता बागेश्री चक्रधर भी कवि हैं, जो देश-विदेश में मंच पर कविताएँ पढ़ चुकी हैं।

पुरस्कार

स्नेहा चक्रधर ने अपनी नृत्य कला के दम पर बहुत-से पुरस्कार हासिल किए हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

  1. 'दण्डयुद्धपाणि पुरस्कार' (2001) - भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के साथ एक पैनल में शामिल कलाकार और नृत्य की दण्डयुद्धपाणि शैली में उत्कृष्ट योगदान के लिए दिया गया था।
  2. 'नाट्य रत्न' (2000) - भारत के पूर्व राष्ट्रपति श्री आर वेंकटरमन द्वारा प्रदान किया गया।
  3. 'माधव ज्योति सम्मान' (अप्रैल, 2010) - होशंगाबाद, मध्य प्रदेश में वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के द्वारा प्रदान किया गया।
  4. 'शास्त्रीय कला रत्न सम्मान' (सितंबर, 2010) - स्नेहा को यह सम्मान 'स्वामी हरिदास समारोह' में दिया गया।


इन्हें भी देखें: अशोक चक्रधर एवं बागेश्री चक्रधर


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=स्नेहा_चक्रधर&oldid=586218" से लिया गया