पेस्टल रंग  

पेस्टल रंग गोल या चौकोर बत्तियों के रूप में मिलते हैं। प्राय: धूमिल रंगतों की चित्र-भूमि पर पेस्टल रंगों से चित्रण किया जाता है। धूमिल रंगों का प्रयोग वायवीय परिप्रेक्ष्य को दिखाने के लिए किया जाता है।

  • सरल रूप से देखा जाये तो पेस्टल रंग भिन्न तरह से अनुबद्ध रंजकों की स्टिक्स हैं। उनको काग़ज़ पर उपयोग करके चित्र बनाते हैं। परंतु पेस्टल रंग से पेंट करने की खास तकनीक होती है, जो पारंपरिक पेंटिंग से भिन्न है।
  • सब पेस्टल रंग एक से गुण के नहीं होते। इसलिए उनके साथ पेंट करने के लिए उनके गुणों और उनके साथ उपयोग करे जाने वाले भिन्न प्रकार के काग़ज़ों के बारे में जानकारी होना चाहिए।
  • पेस्टल रंग कई रूप के होते हैं, जैसे- ऑयल पैस्टल, हार्ड पैस्टल, सॉफ्ट पैस्टल और पैस्टल पेंसिल्स। उन सब के विशिष्ट गुण होते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=पेस्टल_रंग&oldid=610963" से लिया गया