अग्निहोत्र  

अग्निहोत्र एक वैदिक यज्ञ है। इस यज्ञ का वर्णन यजुर्वेद में मिलता है।

  • वैदिक काल में अग्निहोत्र का बड़ा नाम था।
  • प्रात:कालीन और सायंकालीन संध्याओं के उपरांत अग्निहोत्र करके पूजा से उठने का विधान है।
  • वैदिक समय में यज्ञ के लिए जंगल से समिधा लाकर 'शुल्वसूत्र' (ज्यामिति) के अनुसार यज्ञ की वेदी का निर्माण कर अग्निहोत्र करने की प्रथा थी, जो अद्यावधि चली आ रही है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अग्निहोत्र (हिन्दी) भोज। अभिगमन तिथि: 03 मार्च, 2015।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अग्निहोत्र&oldid=609708" से लिया गया