चंद्रचूड़ेश्वर मंदिर, होसुर  

चंद्रचूड़ेश्‍वर मंदिर तमिलनाडु के कृष्णगिरि ज़िले में होसुर नामक स्थान पर स्थित है। यह मंदिर भगवान शिव और उनकी पत्नी देवी पार्वती को समर्पित है। शिव के अतिरिक्त यह मंदिर भगवान मुरुगन, गणेश और कई संतों की पूजा का धार्मिक स्थल भी है।

  • इस मंदिर का नाम चूड़ेश्‍वर इसलिये पड़ा, क्‍योंकि स्‍थानीय लोग भगवान शिव को चूड़ेश्‍वर ही पुकारते हैं।
  • यह मंदिर 1260 ई. में होयसल राजवंश के एक राजा तिरुपुवानामल्‍ला भरवताराजा अंतियाड़वर ने बनवाया था।
  • हालांकि इस मंदिर की वास्तुकला तमिलनाडु के सामान्य मंदिरों की वास्तुकला से अलग है।
  • 'ब्रह्माण्डपुराण' में भद्रगिरि महात्‍मियम के रूप में इस मंदिर का उल्लेख है।
  • चंद्रचूड़ेश्वर मंदिर एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है और तीर्थ यात्रियों की भारी भीड़ जमबवा, वृषभ, मारागाथा, सरोवरम, पाण्डव, शिवागंगई और हनुमातीर्थम जैसे विभिन्न तीर्थ के लिए इस मंदिर की यात्रा करते हैं।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. चंद्रचूड़ेश्‍वर मंदिर, होसुर (हिन्दी) नेटिव प्लेनेट। अभिगमन तिथि: 22 जून, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चंद्रचूड़ेश्वर_मंदिर,_होसुर&oldid=571725" से लिया गया