तुलसीबाई  

  • तुलसीबाई मराठा यशवन्तराव होल्कर की प्रिया (1798-1811 ई.) थी।
  • वह बड़ी ही बुद्धिमता और चतुर नारी थी।
  • 1808 ई. में जब यशवन्तराव होल्कर पागल हो गया, तब वह होल्कर राज्य की संरक्षिका वही बनी।
  • 1811 ई. में राजा की मृत्यु होने पर राज्य का वास्तविक शासन उसके हाथों में आ गया।
  • तुलसीबाई को राज्य के दीवान बलराम सेठ और पिंडारी नेता अमीर ख़ाँ का समर्थन प्राप्त हुआ।
  • 1817 ई. में सेना ने उसके विरुद्ध विद्रोह कर दिया तथा उसे मार डाला।
  • इसके तुरन्त बाद यह सेना 1817 ई. में महीदपुर के युद्ध में अंग्रेज़ों के द्वारा हरा दी गई।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

भट्टाचार्य, सच्चिदानन्द भारतीय इतिहास कोश, द्वितीय संस्करण-1989 (हिन्दी), भारत डिस्कवरी पुस्तकालय: उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान, 191।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=तुलसीबाई&oldid=227803" से लिया गया