धनु राशि  

धर्नुधारी, राशि चिह्न

धनु राशि (अंग्रेज़ी:Sagittarius) राशि चक्र की नौवीं राशि है। इसका राशि चिह्न धर्नुधारी या धनुष है। धनु राशि वृश्चिक और मकर राशि के बीच स्थित होता है। इस राशि का देशांतरीय विस्तार 17.6 से 20.8 घंटा होता है। इसका अक्षांशीय विस्तार 12 डिग्री उत्तर से 45 डिग्री दक्षिण है।

राशि स्वामी- बृहस्पति
शुभ रत्न- पुखराज
अक्षर- ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे

गुण

  • इस राशि के जातक दिखने में मजबूत और शक्तिशाली होते हैं। पैर मांसल होते हैं।
  • किसी कार्य में आगे बढ़कर कार्य को अंजाम देते हैं।
  • धन संचय की कला में काफ़ी होशियार होते हैं।
  • इनकी बातें प्रभावशाली और मोहित करने वाली होती है।
  • अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए सजग और तत्पर रहते हैं।
  • इस राशि का कमज़ोर पक्ष है किसी कार्य को पूरा करने के लिए ज़रूरत से जल्दी जल्दबाजी दिखाना जिसके कारण बनता हुआ काम भी अधूरा रह जाता है।
  • आमतौर पर कार्य को तेजी से करते हैं लेकिन कार्य पूरा किए बिना दूसरों के ऊपर कार्य सौप कर उस काम से हट जाते हैं।
  • इन्हें पाचन सम्बन्धी परेशानियों का भी सामना करना होता है।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=धनु_राशि&oldid=617325" से लिया गया