निर्मल (आंध्र प्रदेश)  

निर्मल आदिलाबाद ज़िला, आंध्र प्रदेश में स्थित एक ऐतिहासिक स्थान है। पहले यह मूलत: वेल्मा लोगों के अधिकार में था। 18वीं शती के पश्चार्ध में द्वितीय निज़ाम के सेनापति मिर्ज़ा इब्राहीम बेग़ जफ़रुलद्दौला, जिसका उपनाम 'धौंसा' था, ने इस पर अधिकार कर लिया था।[1]

  • मिर्ज़ा इब्राहीम बेग़ जो एक अमीर था, उसने यहाँ एक दुर्ग बनवाया था।
  • दुर्ग का निर्माता निज़ाम हैदराबाद की सेवा में नियुक्त एक फ़्राँसीसी इंजीनियर था।
  • अमीर की मृत्यु के पश्चात् उसके पुत्रों ने बगावत कर दी और निज़ाम ने दुर्ग पर अधिकार करके निर्मल को हैदराबाद रियासत में मिला लिया।
  • 17वीं शती की ज़ामा मस्जिद और इब्राहीम बाग़ निर्मल के ऐतिहासिक स्थान हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ऐतिहासिक स्थानावली |लेखक: विजयेन्द्र कुमार माथुर |प्रकाशक: राजस्थान हिन्दी ग्रंथ अकादमी, जयपुर |पृष्ठ संख्या: 501 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=निर्मल_(आंध्र_प्रदेश)&oldid=595790" से लिया गया