सेमरसोत अभयारण्य  

सेमरसोत अभयारण्य छत्तीसगढ़ राज्य के सरगुजा ज़िले के मुख्यालय अम्बिकापुर से 58 किमी. की दूरी पर अम्बिकापुर-रामानुजगंज मार्ग पर स्थित है। इस अभयारण्य में सेंदरी, सेमरसोत, चनआन, सॉंसू, सेंन्दुर एवं मोगराही नदियों का जल प्रवाहित होता है। अभयारण्य के अधिकांश क्षेत्र में सेमरसोत नदी बहती है। यही कारण है कि इस अभयारण्य का नाम 'सेमरसोत अभयारण्य' पडा है।[1]

  • सेमरसोत अभ्यारण्य में साल, साजा, बीजा, शीसम, खम्हार, हल्दू एवं बांस के वन पाये जाते है।
  • इस अभयारण्य का कुल क्षेत्रफल 430.36 वर्ग किमी. तक है।
  • अभ्यारण्य को सौंदर्यशाली बनाने में साल, आम, तेन्दू आदि वृक्षों के कुंज सहायक है।
  • अभ्यारण्य में जंगली जंतुओं में शेर, तेन्दुआ, गौर, नीलगाय, चीतल, सांभर, सोनकुत्ता, भालू, कोटरी, सेही स्वछंद विचरण करते देखे जा सकते हैं।
  • इस अभ्यारण्य में सफ़ेद मूसली, ब्राम्हनी, तिखुर, भोजराज, हरजोर, बायबेरिंग आदि औषधि के पौधे भी पाये जाते है।
  • सेमरसोत अभयारण्य नवंबर से जून तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है।
  • रात्रि विश्राम हेतु वन विश्राम गृह, सेमरसोत एवं पस्त का निर्माण कराया गया है।
  • अभयारण्य में अनेक स्थानों पर 'निगरानी टावरों' का निर्माण किया गया है, जिससे पर्यटक प्राकृतिक सुंदरता का आनंद ले सके।
  • इस क्षेत्र के अन्दर तीन वनग्राम है- झलरिया, दलधोवा और पस्तआ।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान एवं अभ्यारण्य (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 19 जनवरी, 2012।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सेमरसोत_अभयारण्य&oldid=246819" से लिया गया