गाँधी सागर अभयारण्य  

गाँधी सागर अभयारण्य मध्य प्रदेश के नीमच और मंदसौर ज़िले की उत्तरी सीमा पर स्थित है। यह अभ्यारण्य प्राकृतिक सुंदरता को देखने और खोक करने के लिए एक महत्त्वपूर्ण स्थान है।

  • गाँधी सागर अभयारण्य वर्ष 1974 में अधिसूचित किया गया था। इसके बाद 1983 में भारत सरकार ने इसमें और क्षेत्र सम्मिलित कर दिया।
  • यह अभयारण्य कुल 368.62 वर्ग किलोमीटर से भी अधिक के क्षेत्रफल में विस्तृत है।
  • पर्यटक इस अभयारण्य में आकर कुछ समय शांतिपूर्वक व्यतीत कर सकते हैं।
  • अभयारण्य राजस्थान से लगा हुआ है। चंबल नदी सोने पर सुहागे का काम करती है, जो अभयारण्य के मध्य में से गुजरती है और इसे दो हिस्सों में विभाजित करती है। इस प्रकार यह नदी इस अभयारण्य को पश्चिमी एवं पूर्वी दो भागों में बांटती है, जिसमें से पश्चिमी भाग नीमच ज़िले में और पूर्वी भाग मंदसौर ज़िले में स्थित है।
  • गाँधी सागर अभयारण्य आने वाले पर्यटकों के लिए निश्चित रूप से यहाँ देखने को बहुत कुछ है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गाँधी सागर अभयारण्य (हिन्दी) नेटिव प्लेनेट। अभिगमन तिथि: 11 जून, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गाँधी_सागर_अभयारण्य&oldid=493446" से लिया गया