कवारती  

कवारती अथवा 'कवरत्ती' एक नगर और द्वीप, जो केंद्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप की राजधानी है। यह दक्षिण भारत के कालीकट और मालाबार तट से लगभग 346 कि.मी. पश्चिम-दक्षिण पश्चिम दिशा में अरब सागर में स्थित है।[1]

  • कवारती द्वीप 5.6 कि.मी. लंबा, एक छोर पर 1.2 कि.मी. चौड़ा और दूसरे छोर पर शंकु की तरह पतला होता जाता है।
  • इस द्वीप के पश्चिमी हिस्से में एक छिछला अनूप[2] है और उत्तरी हिस्से में नारियल के पेड़ हैं।
  • यहाँ एक विमानपत्तन[3] भी है।
  • कवारती शहर अपनी मस्जिदों के नक़्क़ाशीदार काष्ठ स्तंभों व छतों और क़ब्रिस्तान के नक़्क़ाशीदार पत्थरों के लिए विख्यात है। ऐज़रा मस्जिद में लकड़ी की नक़्क़ाशी और निर्माण शिल्प यहाँ के हस्तशिल्प के बेहतरीन उदाहरण हैं।
  • इस नगर में प्रशासनिक भवन, एक बैंक, कई मस्जिदें और एक मछलीघर है, जिसमें उष्णकटिबंधीय मछलियाँ और मूंगें हैं।
  • वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार यहाँ की जनसंख्या 10,113 थी।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भारत ज्ञानकोश, खण्ड-1 |लेखक: इंदु रामचंदानी |प्रकाशक: एंसाइक्लोपीडिया ब्रिटैनिका प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली और पॉप्युलर प्रकाशन, मुम्बई |संकलन: भारतकोश पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 334 |
  2. लैगून
  3. बंदरगाह

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कवारती&oldid=500400" से लिया गया