गलीकोट  

गलीकोट राजस्थान का एक ऐतिहासिक गाँव है। यह डूंगरपुर से लगभग 58 किलोमीटर की दूरी पर दक्षिण-पूर्व में स्थित है। गलीकोट माही नदी के किनारे बसा हुआ है।

  • किसी समय में यह स्थान परमारों की राजधानी हुआ करता था। आज भी यहां पर एक पुराने क़िले के खंडहर देखे जा सकते हैं।
  • यहाँ पर सैयद फ़ख़रुद्दीन की मजार है। उर्स के दौरान पूरे देश से हजारों दाउद बोहारा श्रद्धालु यहाँ आते हैं। यह उर्स प्रतिवर्ष मोहर्रम से 27वें दिन मनाया जाता है। सैयद फ़ख़रुद्दीन एक धार्मिक व्यक्ति थे और घूम-घूम कर ज्ञान का प्रचार-प्रसार करते थे। इसी क्रम में गलीकोट गांव में उनकी मृत्यु हुई थी।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गलीकोट&oldid=490845" से लिया गया