चिड़ियाघर तिरुअनंतपुरम  

प्रवेश द्वार, चिड़ियाघर, तिरुअनंतपुरम

चिड़ियाघर केरल की राजधानी तिरुअनंतपुरम में पी.एम.जी. जंक्शन के पास स्थित है।

  • यह चिड़ियाघर भारत का दूसरा सबसे पुराना चिड़ियाघर है।
  • 55 एकड़ में फैला यह जैविक उद्यान वनस्पति उद्यान का हिस्सा है।
  • इसका निर्माण 1857 ई. में त्रावणकोर के महाराजा द्वारा बनाए गए संग्रहालय के एक भाग के रूप में हुआ था।
  • यहाँ देशी-विदेशी वनस्पति और जंतुओं का संग्रह है।
  • यहाँ आने पर ऐसा लगता है जैसे कि शहर के बीचों बीच एक जंगल बसा हो।
  • रैप्टाइल हाउस में साँपों की अनेक प्रजातियाँ रखी गई हैं।
  • इस चिड़ियाघर में नीलगिरी लंगूर, भारतीय गैंडा, एशियाई शेर और रॉयल बंगाल टाइगर भी आपको दिख जाएंगें।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. देवताओं की नगरी के नाम से मशहूर (हिन्दी) यात्रा सलाह। अभिगमन तिथि: 21 अक्टूबर, 2010

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चिड़ियाघर_तिरुअनंतपुरम&oldid=280736" से लिया गया