तपन राय चौधरी  

तपन राय चौधरी
तपन राय चौधरी
पूरा नाम तपन राय चौधरी
जन्म 8 मई, 1926
जन्म भूमि बंगाल की खाड़ी के उत्तरी किनारे के बरिसाल में
मृत्यु 26 नवंबर, 2014
मृत्यु स्थान ऑक्सफोर्ड, इंग्लैंड
पति/पत्नी प्रतिमा
संतान सुकन्या (पुत्री)
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र इतिहासकार
मुख्य रचनाएँ बंगाल अंडर अकबर एंड जहाँगीर, बंगालनामा, द वर्ल्ड इन अवर टाइम आदि।
भाषा अंग्रेज़ी
विद्यालय कलकत्ता विश्वविद्यालय, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
शिक्षा डी. फिल
पुरस्कार-उपाधि पद्म भूषण (2007),
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी तपन राय चौधरी को अमेरिकन हिस्टोरिकल एसोसिएशन द्वारा वर्ष 1982 में वातुमुल्ल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

तपन राय चौधरी (अंग्रेज़ी: Tapan Ray Chaudhuri, जन्म: 8 मई, 1926 - मृत्यु: 26 नवंबर, 2014) एक भारतीय इतिहासकार थे। तपन राय चौधरी ब्रिटिश भारतीय इतिहास, भारतीय आर्थिक इतिहास और बंगाल के इतिहास के विशेषज्ञ थे। वह वर्ष 1993 में ऑक्सफोर्ड से सेवानिवृत्त हुए। तपन राय चौधरी को सन 2007 में भारत सरकार द्वारा साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

जीवन परिचय

तपन राय चौधरी का जन्म वर्तमान में दक्षिणी बांग्लादेश में स्थित बंगाल की खाड़ी के उत्तरी किनारे के बरिसाल में 8 मई 1926 (ब्रिटिश भारत) को हुआ था। तपन राय ने कलकत्ता विश्वविद्यालय से 25 वर्ष की उम्र में डी. फिल प्राप्त की। तपन राय ने नीदरलैंड के हेग में स्थित डच ईस्ट इंडिया कंपनी के अभिलेखागार और ऑक्सफोर्ड के बल्लीओल कॉलेज में वर्ष 1953-1957 के बीच दूसरी डी. फिल पर कार्य किया। प्रोफ़ेसर राय चौधरी वर्ष 1973 से वर्ष 1993 के बीच सेंट एंटनी कॉलेज, ऑक्सफोर्ड में आधुनिक दक्षिण एशियाई इतिहास के रीडर थे। एंटनी कॉलेज में प्रोफ़ेसर राय चौधरी को इंडियन हिस्ट्री और सिविलाइजेशन का एड होमिनेन पद प्रदान किया गया।[1]

मुख्य पुस्तकें

  • बंगाल अंडर अकबर एंड जहाँगीर
  • जेन कंपनी इन कोरोमंडल
  • यूरोप रिकंसीडर्ड: परसेप्सन ऑफ द वेस्ट इन नाइंटिथ सेंचुरी ऑफ़ बंगाल
  • द कैम्ब्रिज इकोनामिक हिस्ट्री ऑफ इंडिया (इरफ़ान हबीब के साथ सह-संपादित)
  • बंगालनामा (2007)
  • द वर्ल्ड इन अवर टाइम

सम्मान और पुरस्कार

  • अमेरिकन हिस्टोरिकल एसोसिएशन द्वारा वर्ष 1982 में वातुमुल्ल पुरस्कार
  • डॉक्टर ऑफ़ लेटर्स, वर्ष 1993, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय
  • डॉक्टर ऑफ़ लेटर्स, कलकत्ता विश्वविद्यालय द्वारा मानद उपाधि
  • डॉक्टर ऑफ़ लेटर्स, बर्दवान विश्वविद्यालय द्वारा मानद उपाधि
  • वर्ष 2007 में पद्म भूषण
  • वर्ष 2010 में राष्ट्रीय अनुसंधान प्रोफ़ेसर[1]

निधन

भारतीय मूल के मशहूर इतिहासकार तपन राय चौधरी का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह 90 वर्ष के थे। वह अपने पीछे पत्नी प्रतिमा और बेटी सुकन्या को छोड़ गए। इनका निधन बुधवार 26 नवंबर, 2014 को ऑक्सफोर्ड (इंग्लैंड) में हुआ। एक साल पहले उन्हें दौरा पड़ा था। इसके बाद वह इससे उबर नहीं पाए।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 मशहूर इतिहासकार तपन राय चौधरी का 88 वर्ष की आयु में निधन (हिंदी) जागरण जोश। अभिगमन तिथि: 30 नवम्बर, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=तपन_राय_चौधरी&oldid=627683" से लिया गया