तरंग दैर्ध्य  

तरंग दैर्ध्य
  • (अंग्रेज़ी: Wave Length) किसी माध्यम के किसी कण के एक पूरा कम्पन किये जाने पर तरंग जितनी दूरी तय करती है उसे तरंग दैर्ध्य कहते हैं।
  • तरंग दैर्ध्य को λ (लेम्ड़ा) से प्रदर्शित करते हैं।
  • अनुप्रस्थ तरंगों में दो पास-पास के श्रृंगों अथवा गर्तों के बीच की दूरी तथा अनुदैर्ध्य तरंगों में क्रमागत दो संपीडन या विरलन के बीच की दूरी तरंग दैर्ध्य कहलाती हैं।
  • इसे निम्न सूत्र द्वारा ज्ञात किया जा सकता हैं;-


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=तरंग_दैर्ध्य&oldid=223687" से लिया गया