शोलापुर  

शोलापुर महाराष्ट्र राज्य के प्रमुख नगरों तथा पर्यटन स्थलों में से एक है। यह नगर पूना से रेलमार्ग द्वारा 164 मील दूर है। यह नगर सूती वस्त्र उद्योग के भारत के प्रमुख केंद्रों में से एक है और इसी कारण इसका विकास हुआ है और हो रहा है। यहाँ की बनी चादरें प्रसिद्ध हैं।

  • यह नगर महाराष्ट्र के दक्षिण-पूर्वी हिस्से में स्थित है।
  • शोलापुर भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में एक है। 14,844 वर्ग कि.मी. के क्षेत्र में फैला यह ज़िला अहमदनगर, उस्मानाबाद, सांगली, सतारा और पुणे ज़िलों से घिरा हुआ है।
  • यहाँ हैंडलूम, पावरलूम और बीडी़ उद्योग का प्रमुख केन्द्र है।
  • लावणी, गोंधल और धनगिरी, शोलापुर की लोकप्रिय लोक कलाएं हैं।
  • यहाँ के दर्शनीय स्थलों में 'सिद्धेश्वर मंदिर', 'अक्कलकोट', 'पांधरपुर', 'मलढो़ल वन्यजीव अभ्यारण्य', 'कुडाल संगम', 'रामलिंग' और 'वेलापुर' मुख्य हैं।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. शोलापुर (हिन्दी) यात्रा सलाह। अभिगमन तिथि: 27 अगस्त, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शोलापुर&oldid=501976" से लिया गया