द्वंद्व समास  

द्वंद्व समास (अंग्रेज़ी: Copulative Compound) जिस समास के दोनों पद प्रधान होते हैं तथा विग्रह करने पर 'और', 'अथवा', 'या', 'एवं' लगता हो, वह 'द्वंद्व समास' कहलाता है। जैसे -

  1. ठण्डा-गरम - ठण्डा या गरम
  2. नर-नारी - नर और नारी
  3. खरा-खोटा - खरा या खोटा
  4. राधा-कृष्ण - राधा और कृष्ण
  5. राजा-प्रजा - राजा एवं प्रजा
  6. भाई-बहन - भाई और बहन
  7. गुण-दोष - गुण और दोष
  8. सीता-राम - सीता और राम


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=द्वंद्व_समास&oldid=513142" से लिया गया