केरिंच  

केरिंच सुमात्रा के बारीसान पर्वत का सर्वोच्च ज्वालामुखीय शिखर जिसकी ऊँचाई 12,484 फुट है। इसे इंद्रपुर शिखर भी कहते हैं। यह सुमात्रा के पश्चिमी तट पर पादांग (Padang) नामक नगर के दक्षिणपूर्व स्थित है। इस द्वीप के अन्य ज्वालामुखियों की तरह केरिंचि का निर्माण भी तुरीय (क्वाटरनरी) युग में हुआ। यह अभी सुप्तावस्था में है। इसके शिखर पर एक गहरी ज्वालामुखी झील है जिसका नाम भी केरिंचि है। इसके चारों ओर का क्षेत्र हल्के टफ़ (Tuff) चट्टानों से निर्मित है। यहाँ भूकंप अधिक होता है। सुमात्रा की सबसे बड़ी तथा रमणीय नदी जांबी इसी पर्वत से निकलकर पूर्व की ओर प्रवाहित होती है।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 3 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 119 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=केरिंच&oldid=634286" से लिया गया