बसई  

बसई बम्बई के निकट, भारत का पश्चिमी तटवर्ती एक बन्दरगाह है। भारतीय इतिहास में इस स्थान का महत्त्वपूर्ण स्थान रहा है। बसई भारत के इतिहास में घटने वाली कई घटनाओं का साक्षी रहा है।

  • 16वीं शताब्दी के आरम्भ में पुर्तग़ालियों ने बसई पर अधिकार कर लिया था। मराठों ने लगभग 1770 ई. में इसे पुन: प्राप्त कर लिया।
  • ईस्ट इंडिया कम्पनी बसई को अपने क़ब्ज़े में करना चाहती थी। इस उद्देश्य से बम्बई की सरकार ने 1772 ई. में पेशवा नारायणराव की मृत्यु के उपरान्त मराठों की घरेलू राजनीति में हस्तक्षेप करना शुरू कर दिया।
  • इस कारण से अन्त में आंग्ल-मराठा युद्ध (1775-82 ई.) आरम्भ हुआ, जिसके बाद भी बसई पर मराठों का ही अधिकार रहा।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बसई&oldid=560388" से लिया गया