अनिल कुमार तोमर

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
हवलदार अनिल कुमार तोमर

हवलदार अनिल कुमार तोमर (अंग्रेज़ी: Havaldar Anil Kumar Tomar) भारत के वीर सैनिक थे। वह राजपूत रेजिमेंट में हवलदार के पद पर तैनात थे। अनिल कुमार को मरणोपरांत शौर्य चक्र (2022) से सम्मानित किया गया है। उन्होंने दिसम्बर 2020 में जम्मू-कश्मीर में कॉम्बैट एक्शन में दो आतंकियों को मार गिराया था।

  • अनिल कुमार तोमर उत्तर प्रदेश के मेरठ के रहने वाले थे।
  • गांव सिसौली निवासी अनिल कुमार तोमर भारतीय थलसेना की 44वीं राष्ट्रीय राइफल्स में बतौर घातक प्लाटून हवलदार के पद पर तैनात थे।
  • दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के कनीगाम गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की खबर मिलने पर एक ऑपरेशन चलाया गया था। इसी बीच आतंकवादियों और सैनिकों की मुठभेड़ हो गई।
  • आतंकियों की ओर से की गई फायरिंग में हवलदार अनिल कुमार तोमर गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। उन्हें इलाज के लिए श्रीनगर स्थित 92 बेस अस्पताल भेजा गया था। जहां इलाज के दौरान उन्होंने अंतिम सांस ली।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ में मेरठ का जवान शहीद (हिंदी) bhaskar.com। अभिगमन तिथि: 26 जनवरी, 2022।

संबंधित लेख