एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

एयरो इंडिया शो, 2021

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
एयरो इंडिया शो, 2021
एयरो इंडिया शो, 2021
विवरण एयरो इंडिया शो एयरोस्पेस और डिफेंस सेक्टर के लिए एशिया की सबसे बड़ी और दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी प्रदर्शनी है।
अवधी तीन दिन (3 फ़रवरी से 5 फ़रवरी, 2021 तक)
देश भारत
स्थल येलाहांका एयरफोर्स स्टेशन, बेंगलुरु
प्रतिभागी देश 601
विशेष वर्ष 2021 में यह पहली बार है कि किसी एयर शो को फिजिकल और वर्चुअल दोनों तरीकों से अटैंड किया जा सकता है।
अन्य जानकारी एयरो इंडिया शो, 2021 में दुनिया भर के 601 एग्जीबिटर्स शामिल हो रहे हैं। इनमें 523 भारतीय और 78 विदेशी हैं। इसके अलावा 248 वर्चुअल एग्जीबिटर्स भी इसमें शामिल हो रहे हैं।

एयरो इंडिया शो, 2021 (अंग्रेज़ी: Aero India Show, 2021) बेंगलुरु के येलाहांका एयरफोर्स स्टेशन पर चल रहा है। यह एयर शो 3 फ़रवरी से 5 फ़रवरी, 2021 तक चलेगा। यह 13वाँ एयरो इंडिया शो है। तीन दिन चलने वाले इस शो में भारत के अलावा 14 देश हिस्सा ले रहे हैंं। पहली बार ये शो वर्चुअली भी हो रहा है। लोगों को वर्चुअल देखने के लिए रक्षा मंत्रालय ने खास इंतजाम किया है। यहां तक की साल 2021 में 203 कंपनियां वर्चुयली अपने हथियारों और दूसरे सैन्य-साजो सामान को प्रदर्शित करेंगी। इसीलिए इसे 'हाईब्रीड-मोड' प्रदर्शनी का नाम दिया गया है। एयर शो के जरिए दुनिया में डिफेंस ऐविशएन में क्या नई तकनीक आई है, इसका पता चलता है। साथ ही एयरफोर्स की जरूरत के मुताबिक़, कोई नई तकनीक या साजो सामान का पता चलता है। यह एक ऐसा प्लैटफॉर्म है जहां उससे जुड़ी पूरी जानकारी मिल जाती है।

क्या है एयरो इंडिया शो?

एयरो इंडिया शो एयरोस्पेस और डिफेंस सेक्टर के लिए एशिया की सबसे बड़ी और दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी प्रदर्शनी है। इसमें अलग-अलग एयरफोर्स के नए विमानों, हथियारों और तकनीकों का बेंगलुरु के येलाहांका एयरफोर्स स्टेशन पर प्रदर्शन किया जाता है। प्रदर्शनी के साथ ही पब्लिक एयर शो भी होता है, जिसमें विमान अलग-अलग फॉर्मेशन में करतब दिखाते हैं। आसान भाषा में कहें तो जिस तरह ऑटो एक्सपो में कार कंपनियां अपने नई आने वाली कारों का प्रदर्शन करती हैं, उसी तरह इस शो में एयरोस्पेस और डिफेंस सेक्टर में होने वाले टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट को प्रदर्शित किया जाता है। एयरो इंडिया शो की शुरुआत 1996 में हुई थी। तब से हर दूसरे साल इस एयर शो का आयोजन हो रहा है।[1]

कब से कब तक

एयरो इंडिया शो, 2021

3 फ़रवरी, 2021 से शुरू हुआ एयरो इंडिया शो 5 फ़रवरी तक चलेगा। 4 और 5 फ़रवरी को दो सेशन होंगे। पहला सुबह 9 बजे से और दूसरा दोपहर 1.30 बजे से। प्रदर्शनी के दौरान कुल पांच एयर शो भी होंगे। पहले दिन इनॉगरेशन सेरेमनी के बाद। वहीं, दूसरे और तीसरे दिन एक एयर शो सुबह 9 बजे के बाद जबकि दूसरा दोपहर 1.30 बजे के बाद होगा।

टिकट व शुल्क

  1. प्रदर्शनी के लिए तीनों दिन बिजनेस टिकट जारी किए जाएंगे। ये टिकट आधे दिन के लिए ही होगा। आधे दिन के दो स्लॉट बांटे गए हैं। सुबह 9 से दोपहर 1.30 बजे तक और दोपहर 1.30 से शाम 6 बजे तक। आम लोग एग्जिबिशन में नहीं जा सकते हैं।
  2. भारतीयों के लिए एक टिकट 2,500 रुपए का है जबकि विदेशी लोगों के लिए एक टिकट 75 डॉलर का है। टिकट की अवधि खत्म होने के बाद अगर आप प्रदर्शनी स्थल में पाए जाते हैं तो 5 हजार रुपए का जुर्माना लगेगा। वहीं, विदेशियों के लिए जुर्माने की ये रकम 150 डॉलर होगी। 18 साल से कम उम्र के लोगों को इसमें एंट्री नहीं दी जाएगी।
  3. अगर आप सिर्फ एयर शो देखना चाहते हैं तो इसके टिकट के लिए आपको 500 रुपए खर्च करने होंगे। विदेशी नागरिकों को ये टिकट 20 डॉलर में मिलेगा। टिकट केवल एक हाफ के लिए मान्य होगा।
  4. एक एयर शो खत्म होने के 45 मिनट के भीतर आपको एयर डिस्प्ले विजुअल एरिया खाली करना होगा। कोरोना विषाणु के चलते भीड़ न हो इसलिए इस बार एक एयर शो देखने केवल 3 हजार लोग जा सकते हैं।

विशेष

  1. पहली बार ये शो फिजिकल और वर्चुअल दोनों तरीकों से अटैंड किया जा सकता है।
  2. हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड इस बार एलएसी ट्रेनर, आईजेटी, एडवांस्ड हॉक एमके 132, एचटीटी-40, सिविल डू-228, सुखोई-30 एमकेआई, जैसे विमान और हेलीकॉप्टर प्रदर्शित करेगा।
  3. अमेरिका का खतरनाक बॉम्बर प्लेन B-1B लांसर एयर शो के दौरान फ्लाई बाय करेगा। ये बमवर्षक प्लेन हर तरह के गाइडेड और पारंपरिक हथियार ले जा सकता है। इस प्लेन के नाम पर 50 वर्ल्ड रिकॉर्ड्स हैं। ये रिकॉर्ड्स स्पीड, पेलोड, रेंज, टाइम ऑफ क्लाइंब को लेकर हैं। इसके अलावा अमेरिकी एयरफोर्स का बैंड ऑफ पैसिफिक भी इस शो में परफॉर्म करेगा।[1]

प्रतिभागी देश

एयरो इंडिया शो, 2021 में दुनिया भर के 601 एग्जीबिटर्स शामिल हो रहे हैं। इनमें 523 भारतीय और 78 विदेशी हैं। इसके अलावा 248 वर्चुअल एग्जीबिटर्स भी इसमें शामिल हो रहे हैं। शो में भारत समेत 15 देशों की रक्षा क्षेत्र से जुड़ी कंपनियां शामिल हो रही हैं।

भारत के अलावा फ्रांस, इजराइल, इटली, जापान, रूस, दक्षिण अफ़्रीका, ताइवान, यूक्रेन, ब्रिटेन, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, ब्रसेल्स, बुल्गारिया और चेक रिपब्लिक की कंपनियां इसमें हिस्सा लेंगी।

कोरोना प्रभाव

प्रवेश से 72 घंटे पहले कोरोना की आरटी-पीसीआर टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट के बिना किसी को भी एंट्री नहीं मिलेगी। कोरोना के चलते ही पहली बार ये शो वर्चुअल भी हो रहा है। भीड़ नियंत्रित करने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए शो में कई नियम बनाए गए हैं। बिना मास्क के किसी को भी एंट्री नहीं दी जाएगी। एंट्री पर सभी की स्क्रीनिंग होगी। इसके साथ ही कोरोना प्रोटोकॉल से जुड़े बाकी नियमों का भी सख्ती से पालन किया जाएगा।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख