एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

भावना कांत

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
भावना कांत

भावना कांत (अंग्रेज़ी: Bhawana Kanth, जन्म- 1 दिसंबर, 1992, दरभंगा, बिहार) भारतीय वायु सेना की पायलट हैं। फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत कॉम्बैट मिशन के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली महिला फाइटर पायलट हैं। उन्होंने बीई करने के बाद 2016 में वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर जॉइन किया। मार्च 2020 में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हेें 'नारी शक्ति सम्मान' से भी नवाजा।

  • कॉम्बैट मिशन के लिए क्वॉलीफाई करने वाली पहली महिला फाइटर पायलट, फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत ने इतिहास रच दिया। भावना कांत गणतंत्र दिवस के फ्लाईपास्ट में भाग लेने वाली पहली महिला फाइटर पायलट के साथ-साथ वायुसेना की टुकड़ी का हिस्सा बनने वाली पहली महिला फाइटर पायलट बनी हैं। वायुसेना की झांकी ‘भारतीय वायुसेना: शान से छुएं आकाश’ में लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट, लाइट कॉम्बैट हेलिकॉप्टर और सु-30 एमके-l एयरक्राफ्ट को शामिल किया गया था।
  • भावना कांत का जन्म 1 दिसंबर, 1992 को बरौनी में हुआ था। उनके पिता तेज नारायण कांत इंडियन ऑयल कंपनी में इंजीनियर हैं।
  • अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह के साथ भावना कांत 2016 में वायुसेना में बतौर पहली महिला पायलट शामिल हुई थीं।
  • नवंबर 2017 में भावना ने फाइटर स्क्वाड्रन ज्वाइन किया और मार्च 2018 में पहली सोलो फ्लाइट मिग 21 बिस्डन उड़ाई।
  • मई 2019 में भावना कांत कॉम्बैट मिशन क्वालीफाई करने वाली पहली महिला पायलट बनीं।
  • फिलहाल भावना कांत राजस्थान एयरबेस में तैनात हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख