ओरैया  

ओरैया

औरैया भारत में उत्तर प्रदेश राज्य का एक प्रमुख मुख्यालय एवं नगरपालिका है। जनपद के रूप में इस शहर औरैया का इतिहास नया है। 17 सितम्बर 1997 को इटावा जनपद की दो तहसीलों औरैया और विधूना को काटकर एक नये जनपद का सृजन किया गया और इसका मुख्यालय प्रमुख रेलवे स्टेशन दिबियापुर से औरेया जाने लगभग 22 किलोमीटर मार्ग के मध्य में काकोर नामक स्थान पर बनाया गया। प्रदेश का यह यह नवीन जनपद है कानपुर मण्डल के अन्तर्गत है। जनपद मुख्यालय बनने से पूर्व यह इटावा जनपद का तहसील मुख्यालय रहा है। औरैया जनपद मुख्यालय राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 2 (मुग़ल रोड) पर स्थित है जो कि कानपुर महानगर से 105 किमी. पश्चिम तथा इटावा जनपद मुख्या‍लय से 63 किमी. पूर्व में है। समुद़ तल से यह 139 मीटर ऊंचाई पर 26 अंश 21 उत्तरी अक्षांश तथा 79 अंश 31 पूर्वी देशान्तर पर बसा है। जनपद की साक्षरता 79 प्रतिशत और लिंगानुपात 864 है।

ऐतिहासिकता

इस क्षेत्र की ऐतिहासिकता इसे मराठों के गौरव से लेकर अवध के इतिहास तक जोडती है जो कि प्राचीन काल में पांचाल राज्य में शामिल था।

नवसृजन

4 दिसम्बर 2013 को उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के सात जनपदों में नई तहसीलों के गठन का निर्णय लिया जिसमें औरेया जनपद में अजितमल नामक तहसील का नवसृजन हुआ| वर्तमान औरैया जनपद में तीन तहसीलें तथा 7 विकास खण्ड ‍‍‍हैं जिनके नाम हैं,औरैया, अजीतमल, विधूना, सहार, अछल्‍दा, भाग्‍यनगर, एरवाकटरा...|


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

संबंधित लेख


वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=ओरैया&oldid=599970" से लिया गया