के. शंकर पिल्लई  

के. शंकर पिल्लई

केशवा शंकर पिल्लई (अंग्रेज़ी: Kesava Shankara Pillai, जन्म- 31 जुलाई, 1902, केरल; मृत्यु- 26 दिसम्बर, 1989) जिन्हें शंकर के नाम से जाता है, प्रसिद्ध भारतीय कार्टूनिस्ट थे। भारत में उन्हें 'राजनीतिक कार्टूनिंग का जनक' माना जाता है।

  • के. शंकर पिल्लई का जन्म 31 जुलाई, 1902 को केरल में हुआ था।
  • वे 'अंतर्राष्ट्रीय डॉल्स म्यूजियम' की स्थापना के लिए विश्व भर में जाने जाते हैं।
  • सन 1948 में उन्होंने एक साप्ताहिक पत्रिका 'शंकर्ज वीकली' की शुरुआत की। शंकर वीकली ने अबू अब्राहम, रंगा और कुट्टी जैसे कार्टूनिस्टों का निर्माण किया।
  • 25 जून, 1975 को आपात काल के दौरान के. शंकर पिल्लई ने अपनी पत्रिका को बंद कर दिया था।
  • के. शंकर पिल्लई को 1966 में भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण और फिर 1976 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। पद्म श्री से भी वे सम्मानित हुए थे।
  • सन 1957 में स्थापित 'चिल्ड्रन बुक ट्रस्ट' की स्थापना और 1965 में 'अंतर्राष्ट्रीय गुड़िया संग्रहालय' की स्थापना के लिए के. शंकर पिल्लई को याद किया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=के._शंकर_पिल्लई&oldid=632757" से लिया गया